होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /गाजियाबाद की हवा हुई जहरीली, वायु प्रदूषण का लेवल पहुंचा 400

गाजियाबाद की हवा हुई जहरीली, वायु प्रदूषण का लेवल पहुंचा 400

गाजियाबाद की हवा हुई जहरीली

गाजियाबाद की हवा हुई जहरीली

सेंट्रल पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड के आंकड़ों के मुताबिक, गाजियाबाद का एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) लेवल 376 दर्ज किया गया, ज ...अधिक पढ़ें

    गाजियाबाद. दीपावली के बाद गाजियाबाद खतरनाक प्रदूषण स्तर पर पहुंच गया है. गाजियाबाद में सोमवार सुबह प्रदूषण भरी रही. यहां एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) लेवल 376 के ऊपर पहुंच गया, जो रेड जोन में आता है. वहीं दूसरी ओर सड़कों पर भी और पटाखों के खाली रैपर देखने को नजर आए जिसे यह भी साफ हो रहा है बेशक ही शासन और प्रशासन ने पटाखों की बिक्री पर रोक लगा दी थी. इसके बावजूद लोगों ने जमकर पटाखे दागे.

    बता दें कि गाजियाबाद में दिवाली की अगली सुबह शहर के चारों तरफ प्रदूषण की सफेद चादर दिखाई दे रही है. प्रशासन के साथ-साथ एनजीटी ने इस बार दीपावली पर सख्त तेवर अपनाए थे और दिवाली पर सिर्फ और सिर्फ ग्रीन पटाखे जलाए जाने की दिशा निर्देश दिए थे, लेकिन वह दिशानिर्देश कागजों में ही सिमट कर रह गए.


    सेंट्रल पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड के आंकड़ों के मुताबिक, गाजियाबाद का एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) लेवल 376 दर्ज किया गया, जबकि गाजियाबाद के लोनी का वायु प्रदूषण का स्तर 406 दर्ज किया गया है. बढ़ते प्रदूषण पोलूशन की वजह से लोगों को सांस लेने में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.





    बता दें, सुप्रीम कोर्ट ने प्रदूषण को संज्ञान में लेते हुए 2018 में दिवाली पर पटाखे जलाए जाने के लिए समय निर्धारित कर दिया था. सुप्रीम कोर्ट द्वारा जारी किए गए आदेशों के अनुसार, रात के 8 से लेकर 10 बजे तक ही पटाखे चलाए जाने की अनुमति दी गई थी. 10 बजे के बाद पटाखे चलाना प्रतिबंधित होगा. कोर्ट ने 2017 में 2016 की तुलना में पटाखे बेचने के लिए केवल 20 प्रतिशत लाइसेंस जारी करने के आदेश दिए थे.


    ये भी पढ़ें:


    लखनऊ में दिखा CM योगी के अपील का असर, दिवाली में कम रहा वायु प्रदूषण

    आपके शहर से (दिल्ली-एनसीआर)

    दिल्ली-एनसीआर
    दिल्ली-एनसीआर

    Tags: Air pollution, Diwali 2019, Diwali Celebration, Firecrackers, Ghaziabad News, Supreme Court, UP news, UP police, Uttar pradesh news, Yogi adityanath

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें