Home /News /uttar-pradesh /

गाज़ियाबाद न्यूज़ बुलेटिन :-ईपीएफ और दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर नियम तोड़े तो घर पहुंचेगा चालान 

गाज़ियाबाद न्यूज़ बुलेटिन :-ईपीएफ और दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर नियम तोड़े तो घर पहुंचेगा चालान 

X

    गाज़ियाबाद की दिन भर की बड़ी खबरें

    1) दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे और ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे पर अब यातायात नियम तोड़ा तो चालान आपके घर पहुंचेगा.ट्रैफिक पुलिस ने सीसीटीवी कैमरों की फुटेज के आधार पर ई-चालान करने शुरू कर दिए हैं.एनएचएआई की ओर से ट्रैफिक पुलिस को प्रतिदिन कैमरों की फुटेज भेजनी शुरू कर दि गयी हैं.गलत लेन में वाहन चलाने,सीट बेल्ट न लगाने और नो पार्किंग एरिया में वाहन खड़े करने पर भी चालान शुरू कर दिए गए हैं.उन्होंने बताया कि शहर में नवंबर माह में 22302 और दिसंबर में 3100 वाहनों का ओवर स्पीड में वाहन चलाने पर चालान किए गए है.

    2) ओमिक्रोन की आहट के बीच जिले के 11 आक्सीजन प्लांटों को सुचारु रूप से संचालित करने और नियमित निगरानी के लिए स्टाफ तैनात कर दिया गया है.एक प्लांट की निगरानी के लिए दो स्वास्थ्यकर्मियों को तैनात किया गया है.इस हिसाब से कुल 22 स्वास्थ्यकर्मी तैनात किए गए हैं.जिला सर्विलांस अधिकारी डा.आरके गुप्ता ने बताया कि शासन स्तर से स्वास्थ्यर्मियों को विशेष ट्रेनिग दी जा रही है.बुधवार को गाजियाबाद समेत कई जिलों के 145 आक्सीजन प्लांटों पर तैनात कर्मचारियों को जूम के माध्यम से खराब होने, रखरखाव करने, चलाने व बंद करने को लेकर ट्रेनिग दी गई. जिला एमएमजी, संयुक्त अस्पताल, जिला महिला अस्पताल के अलावा सीएचसी लोनी, डासना, मोदीनगर और मुरादनगर में प्लांट स्थपित किए गए हैं.

    3) हवा चलने पर बुधवार को एक्यूआइ कम हो गया है.वायुमंडल साफ रहा और धूप खिली रही. जिले का एक्यूआइ 229 दर्ज किया गया.प्रदूषण कम होने पर सांस के रोगियों को राहत मिली है.प्रदूषण नियंत्रण विभाग को हवा चलने का इंतजार था.बुधवार को हवा चली तो विभिन्न विभागों के अफसरों ने राहत की सांस ली. विभागों को निर्माणाधीन परियोजनाओं पर स्माग गन लगाने, अत्याधुनिक मशीनों से सफाई करने, सड़कों पर पानी का छिड़काव करने, सड़कों व अन्य बड़े प्रोजेक्ट के निर्माण में प्रदूषण के रोकथाम के मानकों का पालन कराने, कूड़ा जलाने पर रोक लगाने, खुले में निर्माण सामग्री रखने पर कार्रवाई करने, अवैध फैक्ट्रियों को चिह्नित कर ध्वस्त करने, प्रदूषण की शिकायतों के निस्तारण के लिए कंट्रोल रूम बनाने आदि के निर्देश दिए गए थे.निर्देशों का पालन नहीं होने के कारण प्रदूषण कम नहीं हो रहा था. प्रदूषण के कारण दो माह से सांस के रोगी घरों में ही कैद हैं.

    Tags: गाजियाबाद

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर