गाजियाबाद पुलिस ने फर्जी तरीके से हथियार के लाइसेंस बनाने वाले गिरोह का किया पर्दाफाश

पुलिस की पूछताछ में पता चला है कि एक लाइसेंस के लिए 2 से 5 लाख रुपया लिए जाते थे, जिसमें शस्त्र भी शामिल होता था.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 13, 2019, 2:54 PM IST
गाजियाबाद पुलिस ने फर्जी तरीके से हथियार के लाइसेंस बनाने वाले गिरोह का किया पर्दाफाश
फर्जी तरीके से बनाया जा रहा था लाइसेंस
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 13, 2019, 2:54 PM IST
गाजियाबाद पुलिस (Ghaziabad Police) ने फर्जी तरीके से शस्त्र लाइसेंस बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है. पुलिस ने गिरहों के 5 सदस्यों को गिरफ्तार किया है, लेकिन अभी भी असलहा विभाग के 2 संविदा कर्मी फरार चल रहे है. दरअसल, फर्जी लाइसेंस की बात पुलिस को तब संज्ञान में आई जब शाहजहांपुर का एक शस्त्र धारक गाजियाबाद में अपने शस्त्र ट्रांसफर करने की अर्जी डाली. ट्रांसफर अर्ज़ी पर कार्य करते हुए ये बात सामने आई कि लाइसेंस नम्बर ऑनलाइन मैच नहीं कर रहा है, जिसकी जानकारी गाजियाबाद प्रशासन ने शाहजहांपुर प्रशासन को दी.

साल 2007 में शाहजहांपुर के एक थाने से लाइसेंस रजिस्टर गायब हो गई थी
साथ ही अपने स्तर पर भी जांच शुरू कर दी. गाजियाबाद पुलिस ने गिरहों का भंडाफोड़ करते हुए बताया कि शाहजहापुर में एक संविदाकर्मी पर असलहा बाबू का चार्ज है, जिसकी मिली भगत से फर्जी तरीके से लाइसेंस बनाने का काम किया जा रहा था. दरअसल, साल 2007 में शाहजहांपुर के एक थाने से लाइसेंस रजिस्टर गायब हो गई थी, जिसका फायदा उठाकर ये लोग फर्जी लाइसेंस बनवा रहे थे. साथ ही संविदाकर्मी की मदद से यूनिक आई डी बनवा देते थे.

एक लाइसेंस के लिए 2 से 5 लाख रुपया लिए जाते थे

पुलिस की पूछताछ में पता चला है कि एक लाइसेंस के लिए 2 से 5 लाख रुपया लिए जाते थे, जिसमें शस्त्र भी शामिल होता था. गिरोह के मुखिया ने बताया कि बिना किसी पुलिस वेरिफिकेशन और फर्जी सिग्नेचर से लाइसेंस बनाये जा रहे थे, जिनकी जानकारी शास्त्र धारक को नहीं होती थी. मीडिया को जानकारी देते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया कि आरोपी फुरकान, संजय, विनोद, हरिशंकर और सदानंद के कब्जे से 5 असलहे, एक कार और 17 शस्त्र लाइसेंस की छायाप्रति बरामद हुई है. अभी फरार आरोपियों की तलाश की जा रही है, जिनकी गिरफ्तारी के बाद और भी कई खुलासे हो सकते हैं.

रिपोर्ट- अमित राणा

ये भी पढ़ें- 
Loading...

मुकदमा वापस नहीं लेने पर अपराधियों ने बच्चे को ईंट पर पटका

बीमारी-गरीबी से परेशान महिला ने की बच्चों को बेचने की कोशिश
First published: August 13, 2019, 2:45 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...