Home /News /uttar-pradesh /

Ghaziabad: पत्नी को चुनाव लड़वाने के लिए चोरी के पैसे से गांव में बनवाए सड़क, ऐसे चढ़ा पुलिस के हत्थे

Ghaziabad: पत्नी को चुनाव लड़वाने के लिए चोरी के पैसे से गांव में बनवाए सड़क, ऐसे चढ़ा पुलिस के हत्थे

Ghaziabad: शातिर चोर इरफ़ान पुलिस की गिरफत में

Ghaziabad: शातिर चोर इरफ़ान पुलिस की गिरफत में

Ghaziabad Police: गाजियाबाद की कवि नगर थाना पुलिस ने इरफान उर्फ उजाले को गिरफ्तार किया है, जिसके पास से भारी मात्रा में सोने और डायमंड की ज्वेलरी भी बरामद की है. पुलिस पूर्व में इसके 11 साथियों को पकड़ कर जेल भेज चुकी है.

गाजियाबाद. दिल्ली से सटे गाजियाबाद (Ghaziabad) में पुलिस (Police) ने एक ऐसे शातिर चोर को गिरफ्तार किया है जिसने अपनी पत्नी को जिला पंचायत का चुनाव लड़ने और महंगे शौक को पूरा करने के लिए नामचीन लोगों के घर करोड़ों की चोरी की वारदात को अंजाम दिया. गाजियाबाद की कवि नगर थाना पुलिस ने इरफान उर्फ उजाले को गिरफ्तार किया है, जिसके पास से भारी मात्रा में सोने और डायमंड की ज्वेलरी भी बरामद की है. पुलिस पूर्व में इसके 11 साथियों को पकड़ कर जेल भेज चुकी है. थाना कविनगर क्षेत्र में बीपी तीन बटे चार की रात को कारोबारी के यहां तकरीबन सवा करोड़ की चोरी का भी खुलासा पुलिस ने किया है.

गाजियाबाद की कवि नगर थाना क्षेत्र पुलिस की पकड़ में खड़ा यह शातिर बदमाश इरफान उर्फ़ उजाले को गिरफ्तार किया। इसका नाम बेशक ही उजाले हैं, लेकिन इसके कारनामे पूरी तरह काले हैं. इरफान बड़े ही शातिराना अंदाज में बड़े बड़े घरों में चोरी की वारदात को अंजाम दिया करता था. सबसे बड़ी बात यह है कि इरफान चोरी की वारदात के समय अकेले ही घर में प्रवेश किया करता था और अकेले ही बड़ी बड़ी चोरी की वारदातों को अंजाम देकर मौके से फरार हो जाया करता था. इरफान अपना इकबालिया जुर्म कबूल करते हुए साफतौर से बता रहा है कि किस तरीके से इसने न सिर्फ दिल्ली एनसीआर बल्कि देशभर के कई राज्यों में चोरी की वारदातों को अंजाम दिया। इरफ़ान बड़े उद्यमी बल्कि इसके अलावा गोवा के पूर्व राज्यपाल के घर के बराबर में भी चोरी की वारदात को अंजाम दिया था. पुलिस पूछताछ में इसने ये भी बताया कि इसे डायमंड की भी खासी परख है.

पत्नी को लड़वाना चाहता था जिला पंचायत का चुनाव
कवि नगर थाना क्षेत्र में हुई चोरी का खुलासा करते हुए पुलिस ने बीते माह इरफान की पत्नी और इसके अन्य 10 साथियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. पुलिस ने बताया कि इरफान अपनी पत्नी को जिला पंचायत का चुनाव लड़ाना चाहता था. साथ ही इरफान महंगी गाड़ियों का भी शौकीन था. इरफान के साथियों कब्जे से इरफान की महंगी जैगवार गाड़ी एवं स्कॉर्पियो गाड़ी भी बरामद की गई थी. इतना ही नहीं इरफान की तकरीबन 10 से 12 गर्लफ्रेंड भी थी जो कि चोरी के दौरान इसकी हेल्प करती थी और पकड़े जाने पर इसकी जमानत आदि में भी इसकी मदद किया करती थी. हालांकि पुलिस ने उसे भी गिरफ्तार कर लिया है. वहीं दूसरी ओर पुलिस ने बताया कि इरफान न सिर्फ बड़े उद्यमी बल्कि राजनेताओं आदि को भी अपना शिकार बनाता था.

पुलिस मान रही बड़ी सफलता
इरफान क्राइम की दुनिया का वह नाम था जो कि बहुत ही जल्दी चोरी के मामले में एक्सपर्ट बन चुका था और अकेले ही चोरी की वारदात को अंजाम दिया करता था. चोरी की वारदात को अंजाम देने के समय इरफान महज पेचकस और एक अलनाकोब अपने साथ रखता था और पूरी तरीके से काले कपड़े पहन कर घर में प्रवेश किया करता था. इरफान कितना बड़ा चोर था इस बात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इरफान नासिर दिल्ली एनसीआर बल्कि आंध्र प्रदेश तमिलनाडु, केरल, पंजाब और गोवा आदि अन्य राज्यों में चोरी की वारदात को अंजाम दिया करता था. हालांकि इरफान के पकड़े जाने से अब पुलिस ने राहत की सांस ली है और अब दिल्ली एनसीआर में चोरी की वारदात में भी कमी आना लाजमी है.

Tags: Ghaziabad News, Ghaziabad Police, UP news, Up news in hindi

अगली ख़बर