हापुड़: एक पंखा, एक लाइट का बिल 58 लाख देख बेहोश हुई मजदूर की पत्नी

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 28, 2019, 1:18 PM IST
हापुड़: एक पंखा, एक लाइट का बिल 58 लाख देख बेहोश हुई मजदूर की पत्नी
हापुड़ में मजदूर को थमाया 58 लाख का बिजली बिल

भारी-भरकम बिल देखकर मजदूर के होश उड़ गए. रईश की पत्‍नी बेसुध होकर जमीन पर गिर पड़ी. हैरानी तो तब हुई जब रईश को बिजली दफ्तर के अधिकारियों ने पूरा बिल जमा कराने की बात कही.

  • Share this:
क्‍सर चर्चाओं में रहने वाला हापुड़ का विद्धुत विभाग (UP Electricity Department) इन दिनों फिर अपने कारनामों को लेकर चर्चाओं में है. हापुड़ (Hapur) जनपद के धौलाना तहसील के गांव बझैडा कलां में एक गरीब मजदूर रईश को बिजली विभाग ने तीन महीने का बिजली बिल (Electricity Bill) 57 लाख 77 हजार 944 रूपये थमाया. भारी-भरकम बिल देखकर मजदूर के होश उड़ गए. रईश की पत्‍नी बेसुध होकर जमीन पर गिर पड़ी. हैरानी तो तब हुई जब रईश को बिजली दफ्तर के अधिकारियों ने पूरा बिल जमा कराने की बात कही.

रईश अब बिजली दफ्तरों के चक्‍कर काट रहा है, लेकिन कोई भी अधिकारी सुनने को तैयार नही है. रईश ने बताया कि उसके घर में केवल एक लाइट और एक पंखा चलता है, लेकिन इतना बिल देखकर तो वह हैरान है. उधर बिजली विभाग के अधिकारी अपने कर्यालयों फरार हैं अपनी नाकामी छुपाने में लगे अधिकारी कैमरे पर भी आने के लिए तैयार नही हैं. न्यूज18 ने मामले में जब अधिकारियों से बात करनी चाही तो किसी ने कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया. बता दें कि इससे पहले भी हापुड़ के सबली निवासी एक किसान को 1 अरब 28 करोड़ रूपये से अधिक का बिजली बिल थमा दिया गया था.

hapur electricity bill
बिजली नील देख कर बेहोश हुई मजदूर की पत्नी


रिश्वत मांगने का आरोप

उधर रईस ने कहा कि जब वह बिजली ऑफिस पहुंचा तो उससे रिश्वत भी मांगी गई. उसने कहा कि बिजली का बिल देखने के बाद जब वह बिजली ऑफिस पहुंचा तो उससे कहा गया कि तीन बजे के बाद कम होगा. इस बीच एक कर्मचारी ने कहा कि आधा बिल दे दो तो काम हो जाएगा. रईश ने बताया कि इससे पहले का जो बिल था वह 2196 रुपए का था जो उसने जमा करा दिया था.

(रिपोर्ट: विपिन गिरी)

ये भी पढ़ें:
Loading...

स्वामी चिन्मयानंद बोले- सेंगर की तरह मुझे भी फंसाने की साजिश

लापता छात्रा के मामले में स्वामी चिन्मयानंद पर FIR

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गाजियाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 28, 2019, 1:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...