होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /गाजियाबाद के राष्ट्रीय यूनानी चिकत्सा संस्थान में OPD शुरू, रोजाना आ रहे इतने मरीज

गाजियाबाद के राष्ट्रीय यूनानी चिकत्सा संस्थान में OPD शुरू, रोजाना आ रहे इतने मरीज

Ghaziabad News: गाजियाबाद के कमला नेहरू नगर स्थित राष्ट्रीय यूनानी चिकित्सा संस्थान में मरीजों के लिए ओपीडी शुरू हो गई ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट- विशाल झा

    गाजियाबाद. यूपी के गाजियाबाद के कमला नेहरू नगर स्थित राष्ट्रीय यूनानी चिकित्सा संस्थान (National Institute of Unani Medicine) देश-विदेश के छात्रों के लिए यूनानी चिकित्सा पद्धति शिक्षा का एक बड़ा केंद्र बनेगा. राष्ट्रीय यूनानी चिकित्सा संस्थान 10 एकड़ जमीन पर लगभग 381.82 करोड़ की लागत से बनकर तैयार हुआ है. इतना ही नहीं केंद्र में ही यूनानी पद्धति में परास्नातक और पीएचडी की शिक्षा प्राप्त करने के लिए मेडिकल कॉलेज भी बनाए गए हैं.

    गौरतलब है कि एलोपैथिक और होम्योपैथिक मेडिसिन की तरह ही यूनानी चिकित्सा के माध्यम से सामान्य व जटिल रोगों के उपचार के लिए ओपीडी चालू कर दी गई है. इस चिकित्सा केंद्र में 50 करोड़ की लागत से विशेष अत्याधुनिक लैब का भी निर्माण किया गया है. शिक्षा और शोध के लिए रिसर्च इंडियन काउंसिल फॉर कल्चरल रिलेशंस के तहत विदेशी छात्रों को रिसर्च स्कॉलरशिप भी प्रदान की जाएगी. रिसर्च के लिए एनिमल हाउस, डॉक्टरों व कर्मचारियों के लिए आवास, पुरुष व महिला विद्यार्थियों के लिए अलग से छात्रावास भी बनाए गए हैं.

    संस्थान में क्या क्या होगा?
    राष्ट्रीय यूनानी चिकित्सा संस्थान में आईसीयू, 5 ऑपरेशन थिएटर, मेटरनिटी डिपार्टमेंट, ब्लड बैंक, डिजिटल एक्स-रे कक्ष, एमआरआई, सीटी स्कैन, पैथोलॉजी लैब, 1 इमरजेंसी ओटी, क्लासरूम, पीकू – निकू वार्ड, नर्सरी और प्राकृतिक चिकित्सा का इंतजाम किया गया है.

    ओपीडी में पहुंच रहे हैं मरीज
    अब अस्पताल में ओपीडी के चालू होने से रोजाना 50 से 70 मरीज इलाज कराने के लिए पहुंच रहे हैं. फिलहाल संस्थान में 100 बेड की व्यवस्था है. इसके अलावा कुल 14 अन्य विभाग हैं. जिसमें विभिन्न प्रकार के मरीजों का इलाज किया जाएगा. संस्थान में लगभग 425 कारों की पार्किंग सुविधा भी बनाई गई है. News 18 Local को इलाज कराने आए मरीज विजय ने बताया कि यह काफी अच्छी सुविधा जिले में दी जा रही है. मुझसे दवाई का कोई शुल्क नहीं लिया गया. मैं यहां सर्दी जुकाम की समस्या को दिखाने के लिए आया था.

    Tags: Ghaziabad News

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें