होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /एक हाथ खोया पर हौसला नहीं, आज दुनिया भर में नाम कमा रहे राजाराम, पढ़िए सफलता की कहानी

एक हाथ खोया पर हौसला नहीं, आज दुनिया भर में नाम कमा रहे राजाराम, पढ़िए सफलता की कहानी

Ghaziabad News: राजाराम ने कहा कि शुरुआत में डिप्रेशन का शिकार हो गए थे. पर ईश्वर ने मुझे हिम्मत दी और मैंने अपनी इस ला ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट- विशाल झा

गाजियाबाद: आंधियां सदा चलती नहीं, मुश्किलें सदा रहती नहीं, मिलेगी तुझे मंजिल तेरी, बस तू जरा कोशिश तो कर. इन पंक्तियों को उत्तर प्रदेश में जिला गाजियाबाद के प्रताप विहार में रहने वाले राजाराम प्रसाद ने सच कर दिखाया है. दरअसल गाजियाबाद के प्रताप विहार में रहने वाले राजाराम भी सामान्य तरीके से ही अपनी जिंदगी जी रहे थे. लेकिन वर्ष 2011 में दिल्ली के हादसे ने उनकी जिंदगी को बदल के रख दिया. डीटीसी बस ने टक्कर मार के राजाराम जी का हाथ बुरी तरह कुचल दिया. इसके बाद वो ढाई महीने अस्पताल में रहे पर हिम्मत नहीं हारी. हादसे के छह महीने बाद ही राजाराम काम पर लौट आए और एक हाथ से ही ज्वेलरी बनाने लगे.

राजाराम जी ने ऐसी कमाल वेस्टर्न ज्वेलरी बनाई जो विदेशों में काफी पसंद की जाने लगी. अफ्रीकन, यूरोपियन और एशियाई देशों इन ज्वेलरी की काफी मांग है.

हालात को बनाया हौसला
NEWS 18 LOCAL से बात करते हुए राजाराम ने कहा कि शुरुआत में डिप्रेशन का शिकार हो गए थे.पर ईश्वर ने मुझे हिम्मत दी और मैंने अपनी इस लाचारी को कभी अपने आड़े नहीं आने दिया. मैंने हालात को हौसला बनाते हुए ज्वेलरी बनाने का काम शुरू कर दिया. राजाराम ने बताया कि 2015 से ही विदेशों में प्रदर्शनी लगाना शुरु कर दिया था. 2018 में चीन में प्रदर्शनी लगा चुका हूं. राजाराम की स्टोन में भी रूचि है. इसलिए इनके पास कई सारे दुर्लभ पत्थर हैं. जिसमें उल्कापिंड के टुकड़ों में मोल्डावाइट और केवनसाइट पत्थर मौजूद हैं. इनके अलावा रूबी पथर भी मौजूद हैं.

अपने इस बेहतरीन काम के लिए 12 से ज्यादा मंचों से राजाराम सम्मानित हो चुके हैं.

→ वर्ष 2016 इटली के मिलान में पुरस्कार.
→ वर्ष 2017 में अफ्रीकन देश युथोपिया में पुरस्कार.
→ सीएम योगी आदित्यनाथ द्वारा लोकभवन लखनऊ में सम्मानित.

Tags: CM Yogi, Ghaziabad News, Mann Ki Baat, Positive Story, Road Accidents, UP news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें