शहीद अब्दुल हमीद को श्रद्धांजलि देने गाजीपुर जाएंगे आर्मी चीफ

आर्मी चीफ़ जनरल बिपिन रावत रविवार 10 सितम्बर को एक दिन के लिए यूपी के ग़ाज़ीपुर जाएंगे. जनरल रावत ग़ाज़ीपुर में 1965 की लड़ाई में शहिद परमवीर चक्र विजेता अब्दुल हमीद को श्रद्धांजलि देंगे.

News18Hindi
Updated: September 9, 2017, 1:28 PM IST
शहीद अब्दुल हमीद को श्रद्धांजलि देने गाजीपुर जाएंगे आर्मी चीफ
आर्मी चीफ़ जनरल बिपिन रावत की फाइल फोटो
News18Hindi
Updated: September 9, 2017, 1:28 PM IST
आर्मी चीफ़ जनरल बिपिन रावत रविवार 10 सितम्बर को एक दिन के लिए यूपी के ग़ाज़ीपुर जाएंगे. जनरल रावत ग़ाज़ीपुर में 1965 की लड़ाई में शहीद परमवीर चक्र विजेता अब्दुल हमीद को श्रद्धांजलि देंगे. शहीद परमवीर चक्र विजेता अब्दुल हमीद की पत्नी की वृद्धावस्था को देखते हुए जनरल रावत ने खुद गाजीपुर जाने का फैसला किया है.

दिल्ली से चलकर आर्मी चीफ़ जनरल बिपिन रावत 11 बजे वाराणसी के बावतपुर एयरपोर्ट पहुंचेंगे. जहां वे सड़क मार्ग से शहीद अब्दुल हमीद के पैतृक गांव गाजीपुर जाएंगे. जिला प्रशसान ने आर्मी चीफ़ जनरल बिपिन रावत की सुरक्षा के तहत रुट तय किया हैं.



शहीद परमवीर चक्र विजेता अब्दुल हमीद की फाइल फोटो


बता दें, कि आर्मी चीफ़ बनने के बाद शहीद की धर्मपत्नी रसूलन बीबी आर्मी चीफ़ रावत से मिली थीं और ये निवेदन किया था कि उनके जीते जी वो एक बार शहीद को श्रद्धांजलि देने के लिए उनके मेमोरियल आएं. हर साल 10 सितम्बर को शहीद अब्दुल हमीद का परिवर उनके लिए एक सभा का आयोजन करता है.

1965 की जंग में क्वार्टर मास्टर हवलदार अब्दुल हमीद को साहस का प्रदर्शन करते हुए वीरगति प्राप्त हुई थी. इसके लिए उन्हें मरणोपरान्त भारत का सर्वोच्च सेना पुरस्कार परमवीर चक्र प्रदान किया था.

वहीं 10 सितम्बर 1965 को जब पाकिस्तान सेना अमृतसर को घेरकर उसको अपने नियंत्रण में लेने को तैयार थी. अपने प्राणों की चिंता न करते हुए अब्दुल हमीद ने अपनी तोप युक्त जीप को टीले के समीप खड़ा किया और गोले बरसाते हुए शत्रु के कई टैंक ध्वस्त कर दिए थे.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...