अपना शहर चुनें

States

मृतक कांस्टेबल का बेटा बोला- पुलिस अपनी सुरक्षा नहीं कर पा रही, मुआवजे से हम क्‍या करें

कांस्टेबल का बेटा वीपी सिंह (फोटो- एएनआई)
कांस्टेबल का बेटा वीपी सिंह (फोटो- एएनआई)

पुलिस कांस्टेबल की मौत के मामले में 32 लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया गया है जबकि 100 से ऊपर अज्ञात के खिलाफ भी केस दर्ज हुआ है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 30, 2018, 4:57 PM IST
  • Share this:
यूपी के गाजीपुर में पथराव में एक पुलिस कांस्टेबल की मौत के मामले में रविवार को पुलिस ने 100 से ज्यादा लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है. सीओ सिटी महिपाल पाठक ने बताया कि 32 लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया गया है जबकि 100 से ऊपर अज्ञात के खिलाफ भी केस दर्ज हुआ है. इस मामले पर ट्वीट करते हुए यूपी डीजीपी ओम प्रकाश सिंह ने जानकारी दी कि इस मामले में अब तक करीब 19 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

वहीं, इस मामले में कांस्टेबल सुरेश वत्स के बेटे वीपी सिंह ने पुलिस के इक़बाल पर सवाल किया और कहा कि उनसे कोई उम्‍मीद नहीं है. उन्‍होंने कहा, 'पुलिस अपनी सुरक्षा नहीं कर पा रही है. हम उनसे क्या उम्मीद कर सकते हैं? अब हम मुआवजे के साथ क्या करेंगे?' इससे पहले बुलंदशहर और प्रतापगढ़ में इसी तरह की घटनाएं हुई थीं.

उन्होंने घटना पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि ये बेहद दर्दनाक है. इस मामले में जो भी जिम्मेदार हैं. उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी. घटना के बाद पुलिस ने 22 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. पुलिस ने ये कार्रवाई वीडियो फुटेज के आधार पर की है. घटना के बाद पुलिस ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है.





बता दें कि मामला नोनहरा थाना क्षेत्र के कठवामोड़ पुलिस चौकी के पास का है. मृतक कांस्टेबल का नाम सुरेश वत्स है और ये करीमुद्दीनपुर थाने में तैनात थे. वाकया उस वक्त का है जब आरक्षण की मांग को लेकर निषाद समाज के लोगों ने चक्काजाम कर रखा था.

जब पुलिस ने मौके पर पहुंचकर भीड़ को काबू करने की कोशिश की तो भीड़ ने पुलिस पर पत्थर बरसाने शुरू कर दिए. इसी बीच प्रदर्शनकारियों की तरफ से लगातार हो रही पत्थरबाजी में कांस्टेबल सुरेश वत्स की मौत हो गई.

ये भी पढ़ें:

CM योगी आदित्यनाथ ने सुनी 'मन की बात', कहा- हमारे लिए ये मार्गदर्शन करने वाला

माफिया अतीक अहमद की दबंगई, बिल्डर का अपहरण करने वाले दो गुर्गे गिरफ्तार

गाजीपुर हिंसा पर बोले अखिलेश- CM मंच और सदन में कहते हैं 'ठोंक दो', इसलिए हुई घटना

गाजीपुर हिंसा: कांस्‍टेबल की मौत को निषाद पार्टी ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण

गाजीपुर हिंसा मामले में 100 से अधिक प्रदर्शनकारियों के खिलाफ केस दर्ज, अब तक 11 गिरफ्तार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज