गाजीपुर: मीटर रीडिंग करने गए बिजली कर्मियों के साथ अस्पताल में मारपीट

कहा जा रहा है कि अस्पताल पर 15 लाख से ज्यादा का बिजली बिल बकाया है, जिसकी वसूली और मीटर रीडिंग के लिए बिजली विभाग के कर्मचारी अस्पताल गए थे. वहीं, इस घटना के बाद से बिजली विभाग के कर्मचारियों और अधिकारियों के बीच जबर्दस्त रोष है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 11, 2018, 11:11 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 11, 2018, 11:11 PM IST
गाजीपुर जिले में मंगलवार को एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है, जहां मीटर रीडिंग करने गए बिजली कर्मियों के साथ दबंगों ने मारपीट की है. घटना के बाद पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कर ली है. वहीं, पीड़ित बिजली कर्मी आरोपियों की गिरफ्तारी पर अड़े हुए हैं.

यह भी पढ़ें-VIDEO: गाजीपुर जेल में बंद कैदियों ने सीसीटीवी कैमरे लगाने का किया विरोध

जानकारी के मुताबिक मामला सदर कोतवाली थाना क्षेत्र के हमीद सेतु के पास स्थित शम- ए- हुसैनी अस्पताल का है. बिजली विभाग के कर्मचारी शम- ए- हुसैनी अस्पताल में बकाया बिजली के बिल की वसूली और मीटर रीडिंग करने गए थे, लेकिन वहां पहुंचने पर अस्पताल के दबंग कर्मचारियों ने बिजली कर्मियों के साथ मारपीट शुरू कर दी और अभद्र भाषा का प्रयोग भी किया.

यह भी पढ़ें-गाजीपुरः तहसीलदार के पेशकार के धमकाने का वीडियो वायरल

बिजली कर्मियों का कहना है कि अस्पताल के कर्मचारी मारपीट और गाली गलौज तक ही नहीं रुके, पिस्टल दिखाते हुए जान से मारने की धमकी भी दी. साथ ही. कहा कि यदि दोबारा मीटर रीडिंग करने आए तो खैर नहीं होगा.

कहा जा रहा है कि अस्पताल पर 15 लाख से ज्यादा का बिजली बिल बकाया है, जिसकी वसूली और मीटर रीडिंग के लिए बिजली विभाग के कर्मचारी अस्पताल गए थे. वहीं, इस घटना के बाद से बिजली विभाग के कर्मचारियों और अधिकारियों के बीच जबर्दस्त रोष है. पीड़ित कर्मचारियों ने आरोपियों के खिलाफ कठोर कार्यवाही की मांग की है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर