BJP MLA अलका राय ने प्रियंका गांधी को लिखी चिट्ठी, पूछा- मुख़्तार अंसारी जैसे दुर्दांत को क्यों बचा रही हैं?

प्रदेश सरकार के आदेश पर पुलिस-प्रशासन माफिया डॉन मुख्‍तार अंसारी के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रही है (फाइल फोटो)
प्रदेश सरकार के आदेश पर पुलिस-प्रशासन माफिया डॉन मुख्‍तार अंसारी के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रही है (फाइल फोटो)

Ghazipur News: विधायक अलका राय ने आगे लिखा है कि 'यह बेहद शर्मनाक है कि आपकी पार्टी और पंजाब सरकार मुख़्तार अंसारी जैसे दुर्दांत अपराधी के साथ खड़ी है.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 28, 2020, 11:09 AM IST
  • Share this:
गाजीपुर. स्वर्गीय कृष्णानंद राय की पत्नी और मोहम्मदाबाद सीट से बीजेपी (BJP) विधायक अलका राय (Alka Rai) ने कांग्रेस (Congress) की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) को पत्र लिखकर माफिया डॉन मुख़्तार अंसारी (Mafia Don Mukhtar Ansari) को पंजाब (Punjab) से यूपी न भेजने पर नाराजगी जाहिर की है. पत्र में उन्होंने लिखा है कि कोर्ट के आदेश के बावजूद पंजाब की कांग्रेस सरकार द्वारा अनुमति न दिए जाने पर सवाल खड़े किए. गौरतलब है कि मुख़्तार अंसारी पंजाब के रोपड़ जेल में बंद हैं. प्रयागराज के एमपी-एमएलए कोर्ट ने वाराणसी और गाजीपुर पुलिस को मुख़्तार अंसारी को पेश करने का आदेश दिया था. लेकिन जब पुलिस रोपड़ जेल पहुंची तो मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट का हवाला देते हुए मुख्तार अंसारी को भेजने से मना कर दिया गया.

पंजाब सरकार पर अपराधी को संरक्षण देने का आरोप

कृष्णानंद राय हत्याकांड में आरोपी मुख़्तार अंसारी को यूपी न भेजने के बाद अलका राय ने प्रियंका गांधी को लिखे पत्र में कहा है कि ' मैं विधवा हूं और विगत 14 वर्षों से अपने पति कृष्णानद राय की नृशंस हत्या के बाद इंसाफ की लड़ाई लड़ रही हूं. लेकिन आज आपकी पार्टी और पंजाब में आपकी सरकार आरोपी को खुला संरक्षण दे रही है. यूपी की तमाम अदालतों से मुख़्तार अंसारी को पेश करने का आदेश दिया जा रहा है, लेकिन पंजाब सरकार कोई न कोई बहाना बनाकर मेरे जैसे तमाम लोगों को इंसाफ मिलने से रोक रही है."




पत्र का जवाब भी मांगा

विधायक अलका राय ने आगे लिखा है कि 'यह बेहद शर्मनाक है कि आपकी पार्टी और पंजाब सरकार मुख़्तार अंसारी जैसे दुर्दांत अपराधी के साथ खड़ी है.' अलका राय ने प्रियंका गांधी को लिखे पत्र में कहा है कि यूपी पुलिस की गाड़ियां मुख़्तार अंसारी को लेने पहुंची थीं, लेकिन 3 महीने का बेड रेस्ट बताकर उसे भेजने से मन कर दिया गया. अंत में अलका राय ने प्रियंका गांधी से पत्र के जवाब की अपेक्षा भी की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज