अपना शहर चुनें

States

गाजीपुर हिंसा: सामने आया नया VIDEO, फोन पर बात करता दिखा मुख्य आरोपी

29 नवम्बर को नोनहरा थाना क्षेत्र के कठवा मोड़ इलाके में आरक्षण की मांग कर रहे निषाद पार्टी के लोगों ने पुलिस पर पथराव किया था. जिसमें हेड कांस्टेबिल सुरेश वत्स की मौत हो गई थी.

  • Share this:
गाजीपुर हिंसा के पीछे जिसका हाथ है, उसका चेहरा बेनकाब हो गया. हिंसा के दौरान हुए पथराव में सिपाही की मौत के मामले में एक नया वीडियो वायरल हुआ है. वीडियो के जरिए आरोपी की पहचान भी हो गई है. हिंसा से पहले मुख्य आरोपी अर्जुन कश्यप फोन पर बात करते दिखाई दे रहा है. यह वीडियो चक्काजाम के दौरान का है. जिसमें बड़ी संख्या में निषाद पार्टी के कार्यकर्ता हंगामा कर रहे हैं. जबकि निषाद पार्टी का नेता अर्जुन कश्यप किसी से मोबाइल फोन पर बात करता नजर आ रहा है. पुलिस ने भी वायरल वीडियों में मुख्य आरोपी अर्जुन कश्यप के नजर आने की पुष्टि की है.

इससे पहले सीओ सिटी महिपाल पाठक ने बताया कि 32 लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया गया है जबकि 100 से ऊपर अज्ञात के खिलाफ भी केस दर्ज हुआ है. इस मामले पर ट्वीट करते हुए यूपी डीजीपी ओम प्रकाश सिंह ने जानकारी दी कि इस मामले में अब तक करीब 19 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

वहीं इस मामले में कांस्टेबल सुरेश वत्स के बेटे वीपी सिंह ने पुलिस के इक़बाल पर सवाल किया और कहा कि उनसे कोई उम्‍मीद नहीं है. उन्‍होंने कहा, 'पुलिस अपनी सुरक्षा नहीं कर पा रही है. हम उनसे क्या उम्मीद कर सकते हैं? अब हम मुआवजे के साथ क्या करेंगे?' इससे पहले बुलंदशहर और प्रतापगढ़ में इसी तरह की घटनाएं हुई थीं.



बता दें, 29 नवम्बर को नोनहरा थाना क्षेत्र के कठवा मोड़ इलाके में आरक्षण की मांग कर रहे निषाद पार्टी के लोगों ने पुलिस पर पथराव किया था. जिसमें हेड कांस्टेबिल सुरेश वत्स की मौत हो गई थी. फिलहाल इस हिंसा में शामिल कई लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भी भेज दिया है. लेकिन मुख्य आरोपी अर्जुन कश्यप अब भी पुलिस की चंगुल से दूर है. जिसकी तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है.
ये भी पढ़ें-

मॉब लिंचिंग का शिकार क्यों हो रही है यूपी पुलिस, विपक्ष का सीएम योगी आदित्यनाथ के 'ठोको मंत्र' पर आरोप

मृतक कांस्टेबल का बेटा बोला- पुलिस अपनी सुरक्षा नहीं कर पा रही, मुआवजे से हम क्‍या करें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज