जमीन बेचने की रकम में कम मिला हिस्सा तो पोते ने लेली दादा की जान

गाजीपुर के सदर कोतवाली क्षेत्र के मंगल मड़ई गांव में 15 फरवरी की रात अपनी आटा चक्की की दुकान पर सो रहे पिता पुत्र की धारदार हथियार से हत्या कर दी गयी थी.दोनों का लहुलुहान हालत में 16 फरवरी को शव मिला था.

ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 19, 2018, 12:18 PM IST
ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 19, 2018, 12:18 PM IST
गाजीपुर के सदर कोतवाली क्षेत्र के मंगल मड़ई गांव में दो दिन पहले हुए डबल मर्डर केस का पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है. जिसमें युवक ने अपने दादा और चाचा की बेरहमी से हत्या कर दी थी.पुलिस ने आरोपी पोते को गिरफ्तार कर हत्याकांड में इस्तेमाल कुल्हाड़ी बरामद कर ली है.

गाजीपुर के सदर कोतवाली क्षेत्र के मंगल मड़ई गांव में 15 फरवरी की रात अपनी आटा चक्की की दुकान पर सो रहे पिता पुत्र की धारदार हथियार से हत्या कर दी गयी थी.दोनों का लहुलुहान हालत में 16 फरवरी को शव मिला था.मामले की तफ्तीश में जुटी पुलिस ने पिता पुत्र की हत्या के आरोप में मृतक के पोते को गिरफ्तार किया है.

बताया जा रहा है कि मृतक रामजनम लगातार अपनी जायदाद बेच रहा था.कुछ दिन पहले ही उसने अपनी एक जमीन 18 लाख रुपये में बेची थी.जमीन बेचने के बाद मिले पैसों में से उसने अपने बड़े बेटे परशुराम को महज 2लाख रुपये दिए थे.

जिसके चलते परशुराम का बेटा देवचंद अपने दादा रामजनम और चाचा रामकरन से नाराज था.जायदाद और पैसों के विवाद में देवचंद ने अपने दादा और चाचा की कुल्हाड़ी से मारकर हत्या कर दी और सबूत मिटाने की कोशिश की.लेकिन पुलिस तफ्तीश में राज उजागर हो गया.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर