'राजभर की नाराजगी का कोई असर नहीं, हर वर्ग के लोग करेंगे बीजेपी को वोट'

मनोज सिन्हा ने कहा कि बीजेपी ने राजभर समाज के लिए जितना काम किया है, उतना किसी ने नहीं किया है.

Anil Rai | News18 Uttar Pradesh
Updated: May 5, 2019, 6:40 AM IST
Anil Rai
Anil Rai | News18 Uttar Pradesh
Updated: May 5, 2019, 6:40 AM IST
पूर्वांचल की हाईप्रोफाइल सीट गाजीपुर में अंतिम चरण में 19 मई को वोटिंग होनी है. यहां बीजेपी की ओर से केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा मैदान में हैं जबकि गठबंधन ने यहां से पूर्व सांसद अफजाल अंसारी चुनाव लड़ रहे हैं. न्यूज18 से बातचीत करते हुए मनोज सिन्हा ने कहा कि ओम प्रकाश राजभर की नाराजगी से इस चुनाव पर कोई असर नहीं पड़ने वाला है. बीजेपी ने राजभर समाज के लिए जितना काम किया है, उतना किसी ने नहीं किया है.

बीजेपी नेता ने कहा, 'जब राजनाथ सिंह मुख्यमंत्री से तो सबसे पहले महाराज सुहलदेव की मूर्ति लगाई गई. मैंने खुद महाराज सुहलदेव के नाम पर ट्रेन चलाई. प्रधानमंत्री मेदी ने खुद महाराज सुहलदेव के नाम पर डाक टिकट जारी किया. ऐसे में राजभर समाज पूरी तरह बीजेपी के साथ है'.

केंद्रीय मंत्री सिन्हा ने दावा किया कि गाजीपुर की लड़ाई में जाति के साथ भी धर्म का गणित भी टूटेगा.  जातिवाद और वंशवाद को पराजित करने के लिए सिर्फ एक ही मंत्र विकास है. बीजेपी जातिवाद की राजनीति के खिलाफ है और इसका सबसे बड़ा उदाहरण खुद उनका टिकट मिलना है. उनके मंच पर मुस्लिम और यादव मतदाताओं की उपस्थिति के सवाल पर बीजेपी नेता ने कहा कि विकास का असर है कि हर जाति और धर्म के लोग बीजेपी को वोट कर रहे हैं .

गाजीपुर में 5 साल के विकास के कामों को गिनाते हुए केंद्रीय मंत्री ने बताया कि 3 हजार करोड़ की गाजीपुर-मऊ-ताड़ीघाट रेलवे लाइन, मेडिकल कॉलेज, स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, देश के सभी महानगरों से रेल सेवा जोड़ना, हवाई अड्डे की शुरुआत, रेलवे का जोनल ट्रेनिंग सेंटर, कृषि विज्ञान केंद्र, देश का पहला वैगन टॉवर जैसे अनेक ऐसे काम हुए हैं जिसका फायदा गाजीपुर के हर नागरिक को मिल रहा है. ऐसे में उन्हें उम्मीद है कि हर तबके का वोटर उनको वोट करेगा.

ये भी पढ़ें-

Analysis: 'बाहुबलियों' के सहारे पूर्वांचल के लिए BSP का यह बड़ा प्लान!

Analysis: ये सीट जीती तो बीजेपी की सरकार पक्की!
Loading...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsAppअपडेट्स
First published: May 5, 2019, 6:40 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...