जल्द ही आरक्षण में वर्गीकरण व्यवस्था लागू करेगी मोदी सरकार: मनोज सिन्हा

मनोज सिन्हा ने कहा कि देश में आधार को राजनैतिक मुद्दा बनाने की कोशिश की जा रही है. जिस पार्टी ने आधार की शुरुआत की अब वही पार्टी इसका विरोध कर रही है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: May 14, 2018, 7:47 AM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: May 14, 2018, 7:47 AM IST
सरकार जल्द ही आरक्षण में वर्गीकरण व्यवस्था लागू करेगी. आरक्षण में वर्गीकरण व्यवस्था लागू होने से वंचित लोगों को भी न्याय मिलेगा. सरकार तीन महीने में आरक्षण में वर्गीकरण व्यवस्था को लागू करेगी. ये बयान रेल एवं संचार राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने रविवार को गाजीपुर में दिया. सिन्हा ने कहा कि सरकार आरक्षण में वर्गीकरण व्यवस्था लागू करने की तैयारी कर रही है. इसके लागू होने से वंचित लोगों को भी आरक्षण का लाभ मिल सकेगा.

गाजीपुर शहर के गोराबाजार इलाके में आयोजित वनवासी सम्मेलन को संबोधित करते हुए रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि देश में आधार को राजनैतिक मुद्दा बनाने की कोशिश की जा रही है. जिस पार्टी ने आधार की शुरुआत की अब वही पार्टी इसका विरोध कर रही है. जबकि सरकार ने आधार को सभी सरकारी योजनाओं के साथ जोड़ दिया है, जिससे योजनाओं का लाभ अब सीधे लाभार्थी को मिल रहा है. मनोज सिन्हा ने कहा कि विपक्ष आधार को लेकर राजनीति कर रहा है जबकि विदेशी मीडिया ने भी माना है कि आधार सबसे सुरक्षित है. आधार जैसी व्यवस्था कहीं और नहीं है.

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मनोज सिन्हा ने कहा कि मोदी सरकार की पारदर्शी व्यवस्था और नीतियों के चलते सरकारी योजनाओं से बिचौलिए गायब हो गए हैं. उन्होंने सरकारी योजनाओं में तकनीकी पर जोर देते हुए कहा कि मोदी सरकार ने लाभार्थियों के एकाउंट में सीधे पैसे ट्रांसफर कर पिछले वित्तीय वर्ष में देश के 60 हजार करोड़ रुपए बचाए हैं. उन्होंने पिछड़े और वंचित समाज के लोगों के विकास में समाज के अन्य वर्गों से सहयोग की अपील भी की.

ये भी पढ़ें- झांसी: तालाब किनारे मिली खून से सनी लाश, 'नरबलि' की आशंका

बस का इंतजार कर रहे लोगों को DCM ने कुचला, महिला सहित चार की मौत

किसान ने हेलीकॉप्टर से की लाड़ली की विदाई, बेटी बोली-अब जिंदगी भर कुछ नहीं मांगूंगी

BJP नेता के विवादित बोल, राहुल गांधी रावण और बंगाल व जम्मू कश्मीर है लंका!

पूर्वी उत्तर प्रदेश में तूफान का अलर्ट, काशी में शुरू हुई पूजा-अचर्ना
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर