पुजारी की हत्या और मूर्ति चोरी का खुलासा, 5 आरोपी गिरफ्तार

यूपी के गाजीपुर जिले के कासिमाबाद थाना क्षेत्र के इंदौरा स्थित रामजानकी मंदिर के पुजारी की हत्या व मूर्ति चोरी का खुलासा करते हुए पुलिस ने रविवार को एक गैंग के पांच सदस्यों को गिरफ्तार किया है.

IANS
Updated: July 9, 2017, 6:43 PM IST
पुजारी की हत्या और मूर्ति चोरी का खुलासा, 5 आरोपी गिरफ्तार
प्रतीकात्मक तस्वीर
IANS
Updated: July 9, 2017, 6:43 PM IST
यूपी के गाजीपुर जिले के कासिमाबाद थाना क्षेत्र के इंदौरा स्थित रामजानकी मंदिर के पुजारी की हत्या व मूर्ति चोरी का खुलासा करते हुए पुलिस ने रविवार को एक गैंग के पांच सदस्यों को गिरफ्तार किया है. गैंग ने पहले ही चुराई गई मूर्ति सिंगेरा स्थित प्राथमिक विद्यालय के परिसर में फेंक दी थी, जिसे उसी वक्त बरामद कर लिया गया था.

रविवार को पुलिस कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में एसपी सोमेन वर्मा ने बताया कि बीती 23 अप्रैल को राम जानकी मंदिर के पुजारी की हत्या कर अज्ञात लुटेरों ने मूर्ति चुरा ली थी. इस मामले की विवेचना कासिमाबाद पुलिस टीम व क्राइम ब्रांच की संयुक्त टीम कर रही थी. मुखबिर की सूचना पर पुलिस टीम ने रविवार तड़के कासिमाबाद क्षेत्र के टोडरपुर तिराहे के पास एक टाटा मैजिक को पकड़ा़, जिसमें पांच लोग सवार थे.

पांचों संदिग्ध मऊ निवासी राजकुमार व रमेश चौहान, गाजीपुर निवासी धुरंधर खरवार, चंद्रिका यादव और मदन मोहन सिंह से पूछताछ की गई.

उन्होंने बताया कि उन लोगों ने चोरी करने की नीयत से राम जानकी मंदिर की पत्रकार बनकर रेकी की थी. जब वह लोग मूर्ति चुराकर भागने लगे, तो पुजारी गौतमदास ने विरोध किया, जिसकी वजह से उन लोगों ने पुजारी की गला दबाकर हत्या कर दी और मूर्ति चुराकर भाग गए. लेकिन बाद में पता चला कि मूर्ति अष्टधातु की नहीं है, जिस पर 19 मई की रात में सिंगेरा के पास स्थित स्कूल में मूर्ति फेंककर भाग गए.

पुलिस ने अपराधियों के पास से एक कट्टा, एक टाटा मैजिक, बोरा, दानपेटी से चुराए गए 1300 रुपए बरामद किए हैं.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...