Assembly Banner 2021

शौचालय निर्माण-पीएम आवास योजना के नाम पर करोड़ों का घोटाला

आरोप ये भी है कि शासन की विभिन्न योजनाओं में ग्राम प्रधान और संबंधित अफसर जमकर अनियमितता और धांधली कर रहे हैं.

  • Share this:
यूपी के गाजीपुर में शौचालय निर्माण और पीएम आवास योजना में घोटाले का मामला सामने आया है. ग्रामीणों ने ग्राम प्रधान और संबंधित अफसरों पर गांव के विकास कार्यों में लाखों के घोटाले का आरोप लगाया है. ग्रामीणों की शिकायत पर डीएम ने मामले की जांच के आदेश दिये है. जिला प्रशासन की ओर से ग्राम प्रधान को नोटिस जारी की गयी है.

जनपद के रामपुर माझा गांव के विकास के लिए केन्द्र व प्रदेश सरकार की ओर से सड़क, शौचालय और प्रधानमंत्री आवास योजना समेत अन्य कई योजनाओं के लिए करोड़ों रुपये आवंटित किए गए. लेकिन इस ग्राम सभा में कितना विकास हो पाया है उसका अंदाजा यहां पर बनी सड़क, शौचालय और आवास से ही लगाया जा सकता है. ग्रामीणों ने प्रधान और अधिकारियों पर आरोप लगाया है कि पिछले तीन साल से प्रधान द्वारा गांव में आये विकास कार्यों में जमकर घोटाला किया जा रहा है.

VIDEO: लखीमपुर खीरी में गाजे-बाजे के साथ निकली 'सांड' की अंतिम यात्रा



आरोप ये भी है कि शासन की विभिन्न योजनाओं में ग्राम प्रधान और संबंधित अफसर जमकर अनियमितता और धांधली कर रहे हैं. ग्रामीणों का कहना है कि गांव में शौचालय निर्माण,पीएम आवास योजना समेत सरकार की तमाम योजनाओं में लाखों का घोटाला किया गया है, जबकि ग्राम प्रधान आरोपों को सिरे से खारिज कर रहे हैं. .
यूपी और उत्तराखंड के बीच 57 रूटों पर प्राइवेट बसें चलाने पर हुआ समझौता

ग्रामीणों की शिकायत पर जिला प्रशासन ने ग्राम प्रधान को नोटिस जारी की है. मामले को लेकर डीएम ने जांच के आदेश दिये है. फिलहाल ग्रामीणों की शिकायत पर रामपुर माझा गांव में हुये विकास कार्यों की जांच के लिए डीएम ने आदेश दिये है. लेकिन गांव के हालात खुद बताते है कि विकास के नाम पर करोड़ों रुपये खर्च होने के बाद भी गांव विकास से कोसो दूर है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज