Home /News /uttar-pradesh /

7 months pregnant sbi assistant manager richa pandey committed suicide in gonda upns

Gonda में SBI की असिस्टेंट मैनेजर ने की आत्महत्या, जानिए 7 माह की प्रेग्नेंट महिला ने क्यों लगाया मौत को गले!

ऋचा पांडेय गोंडा जिले की स्टेट बैंक की मुख्य शाखा में असिस्टेंट मैनेजर के पद पर तैनात थीं. (File photo)

ऋचा पांडेय गोंडा जिले की स्टेट बैंक की मुख्य शाखा में असिस्टेंट मैनेजर के पद पर तैनात थीं. (File photo)

पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्रा ने बताया कि बैंक अधिकारी ऋचा पांडे की मौत की गुत्थी जल्द सुलझा ली जाएगी और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. सुसाइड नोट को फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है और मोबाइल सीडीआर के आधार पर दोषियों को चिह्नित कर कार्रवाई की जाएगी.

अधिक पढ़ें ...

गोंडा. गोंडा जिले के शहर कोतवाली क्षेत्र के सर्कुलर रोड निवासी महिला बैंक अधिकारी ने 22 जून की सुबह अपने घर के एक कमरे में आत्महत्या कर ली. भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की मुख्य शाखा की सहायक प्रबंधक ऋचा पांडेय (29) को परिवार के लोगों जिला अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया. परिषदीय विद्यालय में शिक्षक के पद पर तैनात निखिलेश उर्फ सूरज शुक्ला और भारतीय स्टेट बैंक में असिस्टेंट मैनेजर के पद पर तैनात ऋचा पांडेय की जिंदगी में सब कुछ ठीक चल रहा था. हंसती-खेलती जिंदगी थी, एक प्यारा सा बेटा भी है और जल्द ही एक नन्हा मेहमान भी आने वाला था. अचानक इनकी जिंदगी में कहर टूट पड़ा और गर्भवती ऋचा पांडेय ने फांसी लगाकर जान दे दी.

दरअसल, ऋचा पांडेय गोंडा जिले की स्टेट बैंक की मुख्य शाखा में असिस्टेंट मैनेजर के पद पर तैनात थीं और इसी बीच एक सहेली की मां सरस्वती देवी के फिक्स्ड डिपॉजिट का भुगतान गलत तरीके से हो गया. सहेली यामिका पर भरोसा करके 83 हजार का भुगतान दूसरे खाते में कर दिया और फिर यही भुगतान उनके गले की फांस बन गया.

कमरे से बरामद हुआ सुसाइड नोट.

कमरे से बरामद हुआ सुसाइड नोट.

आनन-फानन में जब बैंक के अधिकारियों को इसकी जानकारी हुई तो मुख्यालय लखनऊ से एक जांच टीम गठित हुई.

सहेली की FD बन गई गले की फांस
इसी जांच से परेशान होकर ऋचा पांडेय ने अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली. बीते 22 जून की सुबह ऋचा पांडेय ने घर में ही फांसी लगाकर जान दे दी और एक सुसाइड नोट कमरे में छोड़ गई.

सुसाइड नोट खोलेगा राज!

सुसाइड नोट खोलेगा राज!

सुसाइड नोट में इस बात का जिक्र है कि उसकी मौत का कारण उसकी सहेली, बैंक के अधिकारी और कर्मचारी हैं. सुसाइड नोट के मुताबिक बैंक अधिकारी लगातार ऋचा पांडे को परेशान कर रहे थे और इसी आधार पर उसको ब्लैकमेल कर पैसे की डिमांड भी की जा रही थी.

10 लाख रुपए की डिमांड?
मृतका ऋचा पांडेय के पति निखिलेश उर्फ सूरज शुक्ला ने बताया कि उन लोगों से 10 लाख रुपए की डिमांड की थी और मामले को रफा-दफा करने का भरोसा दिया जा रहा था. सूरज ने दबी जुबान में यह भी बताया कि उसने इस समस्या से निजात पाने के लिये 9 लाख रुपये की व्यवस्था भी कर ली थी और 1 लाख के इंतजाम में लगा हुआ था. इसी बीच बैंक अधिकारियों की प्रताड़ना से तंग आकर ऋचा ने खुद को ही खत्म कर लिया. परिवार की परेशानी और बैंककर्मियों की प्रताड़ना परिवार पर कहर बनकर टूट पड़ी.

मोबाइल का CDR खोलेगा राज!
उधर, ऋचा के भाई अनमोल पांडेय की तहरीर पर बैंक मैनेजर, ऋचा की सहेली यामिका और उसके पिता के खिलाफ शहर कोतवाली में केस दर्ज कर लिया गया है. वहीं ऋचा पांडेय के मोबाइल की सीडीआर और सुसाइड नोट को कब्जे में लेकर पुलिस जांच कर रही है. पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्रा ने बताया कि बैंक अधिकारी ऋचा पांडे की मौत की गुत्थी जल्द सुलझा ली जाएगी और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. सुसाइड नोट को फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है और मोबाइल सीडीआर के आधार पर दोषियों को चिह्नित कर कार्रवाई की जाएगी.

Tags: Gonda news, SBI Bank, Suicide Case, Up crime news, UP news, UP Police उत्तर प्रदेश

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर