लाइव टीवी

बलरामपुर: कोरोना वायरस के संदेह में चीन से लौटे एक मेडिकल छात्र को अस्पताल में किया गया भर्ती

SARVESH KUMAR SINGH | News18 Uttar Pradesh
Updated: February 5, 2020, 9:58 AM IST
बलरामपुर: कोरोना वायरस के संदेह में चीन से लौटे एक मेडिकल छात्र को अस्पताल में किया गया भर्ती
बलरामपुर में कोरोना वायरस के संदेह में चीन से लौटे एक मेडिकल छात्र को भर्ती कराया गया है.

चीन (China) में कोरोना वायरस (Coronavirus) फैलने के बाद अभी तक बलरामपुर (Balrampur) जिले में कुल 9 लोगों के चीन से आने की पुष्टि हुई है. यह सभी मेडिकल के छात्र हैं. ये चीन में अलग-अलग स्थानों पर मेडिकल की पढ़ाई कर रहे थे.

  • Share this:
बलरामपुर. कोरोना वायरस (Coronavirus) के मद्देनजर पूरे बलरामपुर (Balrampur) जिले में हाई अलर्ट कर दिया गया है. चीन (China) से आने वाले मेडिकल (Medical Student) के एक छात्र में कुछ लक्षण पाए जाने पर उसे जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है. चीन में कोरोना वायरस फैलने के बाद अभी तक जिले में कुल 9 लोगों के चीन से आने की पुष्टि हुई है. यह सभी मेडिकल के छात्र हैं. ये चीन में अलग-अलग स्थानों पर मेडिकल की पढ़ाई कर रहे थे.

चीन से अब तक 9 मेडिकल छात्र लौटे हैं
कोतवाली उतरौला क्षेत्र में 6, कोतवाली देहात क्षेत्र में दो और पचपेड़वा थाना क्षेत्र में एक युवक की चीन से आने की पुष्टि हुई है. चीन से आने वाले सभी मेडिकल के छात्रों का दिल्ली में भी स्वास्थ्य परीक्षण कराया गया था. जिले में पहुंचने पर रैपिड रिस्पांस टीम ने भी इनका स्वास्थ्य परीक्षण किया. नेपाल सीमा से सटा होने के कारण विशेष सतर्कता बरती जा रही है. डीएम ने नेपाल सीमा से सटे सभी गांव के ग्राम प्रधानों को भी निर्देशित किया है कि सीमा पार से आने वाले लोगों पर कड़ी नजर रखें और उसकी सूचना स्थानीय थाने और स्वास्थ्य विभाग को भी दें.

सभी अस्पतालों में रैपिड रिस्पांस टीम तैनात

सीमा पार से आने वाले लोगों की चेकिंग के लिए सीमा से सटे चार विकास खंडों में चार मेडिकल टीमें बनाई गई हैं. सीमापार से आने वाले सभी नागरिकों का मेडिकल परीक्षण कराया जा रहा है.  जिला संयुक्त अस्पताल में कोरोना से प्रभावित मरीजों के लिए आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है. इसके साथ ही नेपाल सीमा से सटे सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर रैपिड रिस्पांस टीम तैनात की गई हैं और सभी केंद्रों पर अलग वार्ड भी बनाए गए हैं.

सैंपल परीक्षण के लिए भेजा गया केजीएमयू: सीएमओ
इस संबंध में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ घनश्याम सिंह ने बताया कि जिस युवक को संयुक्त जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है, उसमें इन्फ्लूएंजा के कुछ लक्षण विद्यमान हैं. उसकी स्क्रीनिंग की जा रही है और सैंपल परीक्षण के लिए केजीएमयू को भेजा गया है.
Balrampur2
बलरामपुर में कोरोनावायरस को लेकर बनाया गया है आइसोलेशन वार्ड


कोरोना वायरस के मद्देनजर डीएम कृष्णा करुणेश ने बताया कि जिले के स्वास्थ्य विभाग को पूरी तरह सतर्क किया गया है. किसी भी आपात स्थिति से निपटने की तैयारी की गई है. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस को लेकर नेपाल की सीमा काफी संवेदनशील है क्योंकि सीमा पार से आने वाले लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण अत्यंत जरूरी है. इसके लिए मेडिकल की मोबाइल टीम भी तैनात की गई है. नेपाल की सीमा से चोरी-छिपे आने वाले लोगों पर भी कड़ी नजर रखी जा रही है. डीएम ने कहा कि सभी ग्राम प्रधानों को भी निर्देश दिया गया है कि वह अपने क्षेत्र में नेपाल से आने वाले सभी नागरिकों की जानकारी स्थानीय थाने और नजदीकी स्वास्थ्य केंद्रों पर अवश्य दें.

ये भी पढ़ें:

बरेली: 300 करोड़ से ज्यादा रुपये गबन कर चिटफंड कंपनी फरार, FIR

आजमगढ़: धूमधाम से बारात लेकर जा रहा था दूल्हा, बदमाशों ने मारी गोली, मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गोंडा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 5, 2020, 9:58 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर