बलरामपुर गैंगरेप कांडः पुलिस को मिली मुख्य आरोपी शाहिद की रिमांड, तलाशेगी इन सवालों के जवाब

अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी और एडीजी लॉ एंड आर्डर प्रशांत कुमार ने पीड़िता के परिजनों से की थी मुलाक़ात
अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी और एडीजी लॉ एंड आर्डर प्रशांत कुमार ने पीड़िता के परिजनों से की थी मुलाक़ात

Balrampur Gangrape: विशेष सत्र न्यायालय एससी/एसटी ने पुलिस की रिमांड याचिका मंजूर करते हुए घटना के मुख्य आरोपी शाहिद को 20 घंटे की पुलिस कस्टडी को मंजूरी दी है.

  • Share this:
बलरामपुर. बीए की छात्र के साथ गैंगरेप और हत्याकांड (Balrampur Gangrape and Murder Case) के मुख्य आरोपी शहीद (Accused Shahid) को पुलिस ने रिमांड (Police Remand) पर लिया है. घटना का सच सामने लाने और जांच में उठ रहे अहम सवालों की पूछताछ के लिए मुख्य आरोपी शाहिद की रिमांड याचिका न्यायालय ने मंजूर की है. विशेष सत्र न्यायालय एससी/एसटी ने पुलिस की रिमांड याचिका मंजूर करते हुए घटना के मुख्य आरोपी शाहिद को 20 घंटे की पुलिस कस्टडी को मंजूरी दी है. इस गैंगरेप हत्याकांड की विवेचना कर रहे पुलिस क्षेत्राधिकारी राधारमण सिंह ने घटना के मुख्य आरोपी शाहिद से पूछताछ के लिए न्यायालय में रिमांड याचिका दाखिल की थी.

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दरिंदगी की बात

गैसड़ी कोतवाली क्षेत्र में हुई इस वीभत्स घटना को लेकर कई ऐसे सवाल हैं जिनका जवाब अभी तक नहीं मिल सका है. परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. उसके बाद आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट से यह खुलासा हुआ कि मृतक छात्रा के साथ दरिंदगी की गई. उसके जिस्म पर चोट के 10 निशान पाए गए. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह भी खुलासा हुआ कि पीड़िता की मौत अत्यधिक रक्तस्राव और सदमे के कारण हुई थी. गैसड़ी बाजार के भीड़-भाड़ इलाके में एक कमरे में  कॉलेज छात्रा के साथ दरिंदगी की गई थी, जिसके पर्याप्त सबूत भी मिले हैं.



इन सवालों के जवाब खोज रही पुलिस
इस घटना की विवेचना कर रहे पुलिस क्षेत्राधिकारी राधारमण सिंह के सामने भी कई ऐसे प्रश्न हैं जिनका जवाब सिर्फ मुख्य आरोपी शाहिद ही दे सकता है. कॉलेज छात्रा भीड़भाड़ वाले इलाके में उस कमरे तक कैसे पहुंची? यह एक अहम प्रश्न है. इसके साथ ही इस वीभत्स वारदात में कितने और लोग शामिल थे. इसका जवाब मुख्य आरोपी शाहिद ही दे सकता है. पीड़िता के  शरीर पर जख्म के 10 निशान कैसे आए? इसका जवाब भी आना बाकी है.



अपहरण के बाद हुआ था गैंगरेप

गौरतलब है कि 29 सितंबर को कॉलेज में फीस जमा कर वापस लौट रही छात्रा का अपहरण कर उसके साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया गया था. उसके बाद पीड़िता को बेहोशी हालत में एक रिक्शे पर बैठा कर उसके घर भेज दिया गया था. पीड़िता के परिजन जब उसे अस्पताल ले जा रहे थे रास्ते में ही पीड़िता ने दम तोड़ दिया था. इस सनसनीखेज वारदात के बाद स्थानीय प्रशासन से लेकर शासन तक की नींद उड़ गई थी. परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने केस दर्ज कर चार आरोपियों को गिरफ्तार किया और उन्हें जेल भेज दिया. अब पुलिस की विवेचना में कई ऐसे अहम सवाल सामने आए हैं, जिनका जवाब पाने के लिए मुख्य आरोपी को कस्टडी रिमांड पर लिया गया है. उम्मीद की जा रही है कि मुख्य आरोपी शाहिद  से पूछताछ के बाद कई ऐसे सवालों के जवाब मिलेंगे जो अभी तक अनुत्तरित हैं.

एसपी देव रंजन वर्मा ने बताया कस्टडी रिमांड पर लिए गए मुख्य आरोपी शाहिद से पूछताछ के बाद घटना की और भी सच्चाई सामने आएगी. एसपी ने कहा कि पुलिस का यह प्रयास है कि हम इस विवेचना को गुणवत्तापूर्ण ढंग से शीघ्र निस्तारित कराएं और जो इस घटना के दोषी हैं उनको शीघ्र ही कड़ी से कड़ी सजा मिल सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज