बलरामपुर: CM योगी आदित्यनाथ बोले- बेटियों पर बुरी नजर डाली तो दुर्गति तय

बेटियों पर बुरी नजर डाली तो दुर्गति तय
बेटियों पर बुरी नजर डाली तो दुर्गति तय

इस बार रामलीला (Ram Leela) के मंच और दुर्गा पंडाल भी महिला सशक्तिकरण का संदेश, हर जनपद से 100 रोल मॉडल महिलाएं (Women) भी चुनी जाएंगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 17, 2020, 2:26 PM IST
  • Share this:
बलरामपुर. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने कहा है कि राज्य सरकार प्रदेश की हर बेटी-हर महिला का सम्मान और सुरक्षा सुनिश्चित करने के साथ-साथ उनके स्वावलंबन के लिए प्रतिबद्ध है. जो लोग नारी गरिमा और स्वाभिमान को दुष्प्रभावित करने की कोशिश करेंगे, बेटियों पर बुरी नजर डालेंगे, उनके लिए उत्तर प्रदेश की धरती पर कोई जगह नहीं है. यह लोग सभ्य समाज के लिए कलंक हैं. उत्तर प्रदेश सरकार ऐसे अपराधियों से पूरी कठोरता से निपटेगी, इनकी दुर्गति तय है.

महिलाओं, बेटियों और बच्चों की सुरक्षा, सम्मान व स्वावलंबन के प्रयास को अभियान का रूप देते हुए शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जनपद बलरामपुर से प्रदेशव्यापी 'मिशन शक्ति' का श्री गणेश कर रहे थे. शारदीय नवरात्र से बासंतिक नवरात्र तक चलने वाले इस अभियान का शुभारंभ करते हुए योगी ने कहा कि नारी 'शक्ति' की प्रतीक है. हमारी सनातन परंपरा में नारी पूजनीय है, वंदनीय है.


विगत दिनों बलरामपुर में बालिका के साथ हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि 'मिशन शक्ति' उस बालिका को श्रद्धांजलि स्वरूप है. बलरामपुर में जनता से मुखातिब मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेशव्यापी 'मिशन शक्ति' के पहले चरण में महिलाओं, बेटियों और बच्चों की सुरक्षा व सम्मान सुनिश्चित करते हुए जन जागरूकता का कार्यक्रम चलाया जाएगा. दूसरे चरण में 'ऑपरेशन शक्ति' के अंतर्गत चिन्हित मनचलों, शोहदों की काउंसलिंग कराई जाएगी. इसके बाद भी अगर सुधार न हुआ तो जनसहयोग से ऐसे असामाजिक तत्वों के सामाजिक बहिष्कार की कार्रवाई होगी. इनकी तस्वीर चौराहों पर लगेगी.



चुनी जाएंगी 100 रोल मॉडल महिलाएं 

उन्होंने कहा कि अभियान के तहत महिला हित में कार्य करने वाली संस्थाओं, समूहों और व्यक्तियों को सूची बद्ध करते हुए प्रदेश सरकार सम्मानित करेगी. इस बार रामलीला के मंच और दुर्गा पंडाल भी महिला सशक्तिकरण का संदेश, हर जनपद से 100 रोल मॉडल महिलाएं भी चुनी जाएंगी.

फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी जल्द सुनवाई

सीएम योगी ने महिलाओं को उन्नति के लिए हर अवसर उपलब्ध कराने के आश्वासन देते हुए कहा कि महिला सम्बन्धी अपराध कतई क्षम्य नहीं है. ऐसे प्रकरणों में त्वरित कार्रवाई होगी. अभियोजन की कार्यवाही पूरी तैयारी से होगी. जल्द से जल्द न्याय के लिए इनकी सुनवाई आवश्यकतानुसार फास्ट ट्रैक कोर्ट में कराई जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज