अपना शहर चुनें

States

Gonda News: हनी ट्रैप के जाल में फंसाने वाली डॉक्टर प्रीती गिरफ्तार, मेडिकल छात्र का किया था किडनैप

हनी ट्रैप के जाल में फंसाने वाली डॉक्टर प्रीती गिरफ्तार (File photo)
हनी ट्रैप के जाल में फंसाने वाली डॉक्टर प्रीती गिरफ्तार (File photo)

डॉ. अभिषेक व उसके अन्य साथियों के साथ मिलकर गौरव हालदार को दोस्ती (Freindship) के जाल फंसाया.

  • Share this:
गोंडा. उत्तर प्रदेश के गोंडा (Gonda) जिले में बीते 18 जनवरी की शाम मेडिकल छात्र के अपहरण (Kidnap) से हड़कंप मच गया था. बीएएमएस (BAMS) की पढ़ाई करने वाले छात्र गौरव हलदार को यूपी एसटीएफ ने नोएडा से बरामद कर लिया था. गोंडा मेडिकल छात्र गौरव हलदार अपहरण कांड में आखिरी आरोपी को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. 25 हजार की इनामी डॉक्टर प्रीति मेहरा को हरियाणा के झज्जर से गिरफ्तार किया गया है. डॉक्टर प्रीति दिल्ली एक हॉस्पिटल के में डॉक्टर है.

आईजी राकेश सिंह ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि गिरफ्तार मुख्य अभियुक्त डॉक्टर प्रीति मेहरा ने ही गौरव को हनी ट्रैप में फसाया था और दिल्ली से गोंडा आकर ले गयी थी. इस अपहरण कांड को डॉक्टरों के एक ग्रुप ने अंजाम दिया था. वारदात में डॉक्टर अभिषेक और डॉक्टर प्रीति समेत 6 लोग शामिल थे. इस अपहरण कांड में शामिल सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

UP News: BJP MLA अलका राय ने प्रियंका गांधी को लिखा पत्र, बोलीं- हत्यारे मुख्तार अंसारी को बनाया राज्य अतिथि!



पूछताछ में डॉ. प्रीति मेहरा ने बताया कि शॉटकट से पैसे कमाने के लालच में उन्होंने अपने दोस्त डॉ. अभिषेक व उसके अन्य साथियों के साथ मिलकर गौरव हालदार को दोस्ती के जाल फंसाया और गोंडा आकर उसे मिलने के लिए बुलाया. इसके बाद साथियों के साथ मिलकर उसका अपहरण कर लिया था. मूलरूप से हरियाणा निवासी मेहरा वर्तमान में दिल्‍ली के प्रेमनगर में रहती थी.
आईजी ने बताया कि दिल्ली के डॉ. अभिषेक ने एक महिला के साथ मिलकर गौरव के अपहरण की साजिश रची थी. पुलिस के मुताबिक अभिषेक व उनके सहयोगियों ने गौरव को नशे का इंजेक्शन देकर बेहोश किया था और फिर उसे अपने साथ नोएडा ले आए थे. बता दें कि गोंडा नगर कोतवाली के हारीपुर स्थित एससीपीएम कॉलेज ऑफ पैरामेडिकल में बीएएमएस प्रथम वर्ष के छात्र गौरव हालदार का अपहरण हो गया था. गौरव कॉलेज के हॉस्टल में रहता था. 19 जनवरी की दोपहर अपहृर्ताओं ने छात्र के पिता डॉ. निखिल हालदार को फोन कर 70 लाख रुपये की फिरौती मांगी थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज