VIDEO: लोेकगायिका मालिनी अवस्थी ने गोंडा महोत्सव के आखिरी दिन जमाया रंग

गोंडा महोत्सव के चौथे व आखिरी दिन लोकगायिका पदमश्री मालिका अवस्थी के नाम रहा. मालिनी अवस्थी ने अपने चिरपरिचित अंदाज में लोकगीतों और फिल्मी तरानों से लोगों झूमने पर मजबूर कर दिया

ETV UP/Uttarakhand
Updated: March 14, 2018, 9:03 AM IST
ETV UP/Uttarakhand
Updated: March 14, 2018, 9:03 AM IST
गोंडा जिले में चल रहे गोंडा महोत्सव के चौथे व आखिरी दिन लोकगायिका पदमश्री मालिका अवस्थी के नाम रहा. मालिनी अवस्थी ने अपने चिरपरिचित अंदाज में लोकगीतों और फिल्मी तरानों से लोगों झूमने पर मजबूर कर दिया और जब मालिनी मंच से उतरकर जनता के बीच में पहुंची तो उनकी स्वर लहरियों से लोग आनंदित हुए बिना नहीं रह सके.

शहीदे आजम भगत सिंह कॉलेज मैदान में आयोजित महोत्सव के आखिरी दिन पहुंची मालिनी अवस्थी ने प्रशंसकों के फरमाइशी गानों पर जमकर ठुमके भी लगाए. इस दौरान उन्होंने पारंपरिक लोकगीत कजरी, फाग, देवीगीतों और चैती गीतों से दर्शकों को सराबोर कर दिया.

लोकगीतों के प्रति नई पीढ़ी के युवाओं में बढ़ते रूझान पर चर्चा करते हुए मालिनी अवस्थी ने कहा कि आज का युवा आधुनिक गीतों के साथ-साथ सूफी, शास्त्रीय संगीत को भी पसन्द कर रहा है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...