लाइव टीवी

यूपीः गोंडा में झाड़ियों में मिले आयुष्मान योजना के हेल्थ कार्ड, स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप

Devmani Tripathi | News18 Uttar Pradesh
Updated: November 14, 2019, 11:45 PM IST
यूपीः गोंडा में झाड़ियों में मिले आयुष्मान योजना के हेल्थ कार्ड, स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप
यूपी के गोंडा में झाड़ियों में पड़े मिले आयुष्मान योजना के तहत बने हेल्थ कार्ड.

यूपी के गोंडा (Gonda) में प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (PMJAY) के तहत बने आयुष्मान भारत योजना कार्ड (Ayushman Bharat card) झाड़ियों में पड़े मिले हैं. गरीबों को निःशुल्क इलाज के लिए बांटे गए हेल्थ कार्ड के साथ लापरवाही की घटना से स्वास्थ्य विभाग (UP Health Department) में मचा हड़कंप.

  • Share this:
गोंडा. केंद्र सरकार (Central Government) की तरफ से संचालित प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना यानी आयुष्मान भारत योजना (Ayushman Bharat-Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana) उत्तर प्रदेश के गोंडा में दम तोड़ती नजर आ रही है. यह योजना गरीब परिवारों को बीमारी के दौरान नि:शुल्क इलाज (Free Treatment) उपलब्ध कराए जाने के लिए बनी है. इसके तहत बनाए लोगों को हेल्थ कार्ड (Health card) दिए जाते हैं. लेकिन गुरुवार को गोंडा में आयुष्मान योजना के तहत बने दर्जनों हेल्थ कार्ड सड़क किनारे झाड़ियों मे पड़े मिले हैं. आयुष्मान हेल्थ कार्ड के वितरण में लापरवाही की इस घटना के सामने आने के बाद उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग (UP Health Department) में हड़कंप मच गया है.

रास्ते से गुजर रहे लोगों की पड़ी नजर
गोंडा में झाड़ियों में पड़े मिले आयुष्मान हेल्थ कार्ड कौन फेंक गया, इसके बारे में किसी को कोई जानकारी नहीं है. गोंडा में स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मुजेहना के तहत आने वाले मूसापुर गांव के लाभार्थियों का हेल्थ कार्ड इस योजना के तहत बनाया गया है. लाभार्थियों के बीच इसे वितरित किया जाना था, लेकिन इन कार्डों को बांटने के बजाय उन्हें फेंक दिया गया. गुरुवार को रुद्रगढ़ नौसी गांव के पास स्थानीय लोगों ने ये हेल्थ कार्ड झाड़ियों में देखे. इसके बाद स्थानीय निवासी तिलकधर दूबे ने सभी कार्ड इकट्ठा कर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को सूचना दी. आनन-फानन में विभाग के कर्मचारी पहुंचे. दूबे ने झाड़ियों से बरामद करीब 20 लोगों के हेल्थ कार्ड कर्मचारियों को सौंप दिए. सीएमओ मधु गैरोला से जब न्यूज 18 ने इस मामले को लेकर सवाल पूछा तो उन्होंने कहा कि कार्ड ले जाते समय रास्ते में गिर गया होगा. हालांकि इस काम में किसने लापरवाही की या इस पर आगे क्या कार्रवाई होगी, इसको लेकर सीएमओ ने कोई जवाब नहीं दिया.

Health card of Ayushman Yojana found in bushes in Gonda
रास्ते से गुजर रहे लोगों ने झाड़ियों में पड़े कार्ड की सूचना स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों को दी.


इन लोगों के कार्ड मिले झाड़ियों से
तिलकधर दूबे ने न्यूज 18 को बताया कि हदीसुन्निशा, जगदीश, इसराइल, संतराम, रामराज, रामतेज, ईदू, भगवानदास, मोहर अली, छविलाल, अकबर अली, खेरुलनिसा, हीरालाल, कुन्नू, बालगोविंद, जगप्रसाद समेत 20 लाभार्थियों का हेल्थ कार्ड झाड़ियों में पड़ा था. आपको बता दें कि गरीब परिवारों को गंभीर बीमारियों के इलाज के लिए केंद्र सरकार ने आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत की है. इस योजना के तहत पात्र लाभार्थियों को गोल्डेन हेल्थ कार्ड बांटे जा रहे हैं. इस हेल्थ कार्ड की मदद से पीड़ित चुनिंदा अस्पतालों में पांच लाख रुपए तक का निःशुल्क इलाज करा सकते हैं.

ये भी पढ़ें -
Loading...

योगी सरकार का बड़ा फैसला, सरकारी राशन की दुकान भी अब बन सकेंगी जनरल स्टोर!

मेरठ: नन्हें पुरोहितों ने 286 जोड़ों का करवाया सामूहिक विवाह, सांसद से लेकर डीएम तक ने किया कन्यादान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गोंडा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 14, 2019, 11:45 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...