होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /जेल में बंद पूर्व सांसद रिजवान जहीर की बढ़ी मुश्किलें, अब दर्ज हुआ हत्या की कोशिश का केस

जेल में बंद पूर्व सांसद रिजवान जहीर की बढ़ी मुश्किलें, अब दर्ज हुआ हत्या की कोशिश का केस

Balrampur: पूर्व सांसद रिजवान जहीर और उनके दामाद पर हत्या की कोशिश का केस दर्ज

Balrampur: पूर्व सांसद रिजवान जहीर और उनके दामाद पर हत्या की कोशिश का केस दर्ज

Balrampur News: बाहुबली रिजवान जहीर यूपी का टॉप टेन अपराधी घोषित है. मौजूदा समय में रिजवान जहीर ललितपुर की जेल में बंद ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

10 माह पुराने मामले में पुलिस ने दर्ज किया है मुकदमा
रिजवान जहीर यूपी के टॉप टेन अपराधियों में हैं शामिल

बलरामपुर. जेल में बंद पूर्व सांसद और यूपी के घोषित टॉप टेन अपराधी रिजवान जहीर की मुश्किलें बढ़ती जा रही है. बलरामपुर पुलिस ने घटना के 10 महीने बाद एक शिकायती प्रार्थना पत्र पर पूर्व सांसद रिजवान जहीर और उनके दामाद रमीज नेमत पर हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज किया है. पूर्व सांसद रिजवान जहीर और उनके दामाद रमीज तुलसीपुर नगर पंचायत के पूर्व चेयरमैन फिरोज पप्पू की हत्या के मामले में जेल में बंद है.

बता दें कि बाहुबली रिजवान जहीर यूपी का टॉप टेन अपराधी घोषित है. मौजूदा समय में रिजवान जहीर  ललितपुर की जेल में बंद है,  जबकि इनके दामाद रमीज नेमत को आगरा की जेल में रखा गया है. सपा के पूर्व विधायक मशहूद खां के भाई अब्दुल महमूद खां की तहरीर पर तुलसीपुर थाने की पुलिस ने पूर्व सांसद रिजवान जहीर और उनके दामाद रमीज नेमत पर हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज किया है. पुलिस को दी गई तहरीर में अब्दुल महमूद खां ने आरोप लगाया है कि 27 सितम्बर 2001 को उन्होंने शीतलापुर गांव में गाटा संख्या 260 और 298 में कुछ जमीन खरीदी थी. उसी के बगल में पूर्व सांसद रिजवान जहीर की पत्नी सैयदा हुमा फातिमा की भी जमीन थी. लगभग 15 वर्ष पूर्व अब्दुल महमूद खां की जमीन को रिजवान जहीर के द्वारा कब्जा किया जाने लगा. इसका विरोध करने पर अब्दुल महमूद खां को जान से मारने की धमकी दी गई.

ये है आरोप

अब्दुल महमूद खां का आरोप है कि लगभग 10 माह पूर्व वह अपने भाई के साथ रिजवान जहीर की कोठी पर गये और अपनी जमीन से कब्जा हटाने की बात कही. जिस पर रिजवान जहीर और उनके दामाद रमीज नेमत ने अब्दुल महमूद खां पर जानलेवा हमला किया और धमकी दी कि जो कोई इस भूमि की तरफ देखेगा उसे मौत के घाट उतार दिया जाएगा. तुलसीपुर के पूर्व चेयरमैन और सपा नेता फिरोज पप्पू की हत्या के मामले में रिजवान जहीर और उनके दामाद के जेल में बंद होने के बाद अब्दुल महमूद खां ने फिर से पुलिस का दरवाजा खटखटाया. पुलिस ने रिजवान जहीर द्वारा कब्जा की गई अब्दुल महमूद खां की अधिकांश जमीन को कब्जे से मुक्त करवा दिया है और 10 माह पहले अब्दुल महमूद खां के ऊपर किए गए जानलेवा हमले का संज्ञान लेते हुए पूर्व सांसद रिजवान जहीर और उनके दामाद रमीज नेमत के ऊपर हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज कर लिया.

एसपी ने कही ये बात

पुलिस की कार्यवाही से पूर्व सांसद की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. एसपी राजेश कुमार सक्सेना ने बताया कि रिजवान जहीर प्रदेश के टॉपटेन अपराधी हैं. इनके ऊपर गैंगस्टर और रासुका के अंतर्गत भी कार्यवाही की गई है. अपराध से अर्जित की गई इनकी परिसंपत्तियों को कुर्क किया जा चुका है. अब्दुल महमूद खां की तहरीर पर रिजवान जहीर और इनके दामाद के खिलाफ हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज किया गया है.

Tags: Balrampur news, UP latest news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें