Lockdown 4.0: महाराष्ट्र से गर्भवती पत्नी और दो बच्चों को बाइक पर बैठाकर पहुंचा घर 
Gonda News in Hindi

Lockdown 4.0: महाराष्ट्र से गर्भवती पत्नी और दो बच्चों को बाइक पर बैठाकर पहुंचा घर 
महाराष्ट्र से गर्भवती पत्नी और दो बच्चों को बाइक पर बैठाकर पहुंचा घर

सौरभ ने बताया कि सामानों की कीमतें भी लगभग दुगनी हो चुकी थी. वहीं मकान का किराया भी भरना ही था. आमदनी का स्रोत बंद हो गया था लेकिन खर्चे सब यथावत थे.

  • Share this:
बलरामपुर. वैश्विक महामारी (Pandemic) कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण के फैलाव से बचाव के लिए पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) जारी है. इसी बीच यूपी के बलरामपुर जिले के पचपेड़वा इलाके का रहने वाला एक युवक गर्भवती पत्नी और तीन बच्चों को बाइक पर बैठाकर 1750 किलोमीटर लंबी यात्रा पूरी कर अपने घर पहुंचा. इस यात्रा को पूरा करने में चार दिन लगे. घर पहुंचने से पहले ही युवक, उसकी गर्भवती पत्नी और बच्चों क्वारंटाइन कर दिया गया है. पचपेड़वा थाना क्षेत्र के गणेशपुर का रहने वाला सौरभ 11 वर्षो से महाराष्ट्र के पुणे में कारपेंटर का काम करता था. पत्नी और दो बच्चो के साथ जिन्दगी ठीक-ठाक गुजर रही थी. कोविड-19 के संक्रमण के बाद जब देश में लॉकडाउन किया गया तो सौरभ आश्वस्त था कि वह एक-दो महीने अपने परिवार का पेट पाल सकेगा.

लॉकडाउन का पालन करते हुये सौरभ ने अपनी बचाई गयी पूंजी को खाने में खर्च करने लगा. इसी बीच महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का संक्रमण और लॉकडाउन की अवधि बढ़ने लगी. अब उसे अपने बीबी और बच्चों का पेट पालने में कठिनाई महसूस होने लगी. दूसरी तरफ मकान मालिक किराए का तगादा भी करने लगे. सौरभ ने एक बाइक पर अपनी गर्भवती पत्नी और दो बच्चों को बैठाकर 1750 किलोमीटर की लंबी यात्रा पर निकल पडा. बलरामपुर पहुंचे सौरभ ने बताया कि कठिनाई दिन प्रतिदिन बढती जारही थी. बचाकर रखे गये पैसे खर्च हो रहे थे.

महामारी भी विकराल रूप धारणकरती जा रही थी. सौरभ ने बताया कि सामानों की कीमतें भी लगभग दुगनी हो चुकी थी. वहीं मकान का किराया भी भरना ही था. आमदनी का स्रोत बंद हो गया था लेकिन खर्चे सब यथावत थे. ऐसे में फिर कोई विकल्प नहीं बचा. गर्भवती पत्नी और दो छोटे-छोटे बच्चो के साथ बाइक का सफर भी आसान नहीं था. लेकिन इस त्रासदी से बचने का कोई विकल्पन देख सौरभ ने हिम्मत नहीं हारी और 1750 किलोमीटर की दूरी तय करते हुए सुरक्षित अपनी पत्नी और बच्चो के साथ अपने गांव पहुंच गया. फिलहाल सौरभ को उसके पत्नी और बच्चों के साथ क्वारंटाइन कर दिया गया है.



ये भी पढ़ें:
UP पुलिस के लिए अच्छी खबर! कानपुर में 12 की बजाय 8 घंटे ही करनी होगी ड्यूटी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading