बलरामपुरः आरटीआई कार्यकर्ता को मिली जान से मारने की धमकी!

आरटीआई कार्यकर्ता मोहम्मद मुबारक ने एसपी को लिखा है कि अगर उसके या उसके परिवार के साथ कोई अनहोनी होती है तो उसका सम्पूर्ण दायित्व प्रधान और उसके प्रतिनिधि का होगा

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 10, 2018, 9:42 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 10, 2018, 9:42 PM IST
बलरामपुर जिले में मंगलवार को एक आरटीआई कार्यकर्ता को जान से मारने की धमकी देने का मामला सामने आया है. बताया जाता है ग्राम प्रधान प्रतिनिधि ने पीड़ित आरटीआई कार्यकर्ता द्वारा ग्राम पंचायत में व्याप्त भ्रष्टाचार की सूचना मांगने पर जान से मारने की धमकी दी है. पीड़ित आरटीआई कार्यकर्ता का नाम मोहम्मद मुबारक बताया जा रहा है.

यह भी पढ़ें-बलरामपुर: जमीन विवाद में दो पक्षों में खूनी संघर्ष,एक की मौत

रिपोर्ट के मुताबिक कोतवाली उतरौला क्षेत्र के रमवापुर गांव निवासी मोहम्मद मुबारक ने ग्राम पंचायत में व्याप्त भ्रष्टाचार को उजागर करने के लिए फाइल एक आरटीआई में कुल नौ बिन्दुओं पर जबाव मांगा था, लेकिन सूचना नहीं मिलने पर आरटीआई कार्यकर्ता ने प्रथम अपीलीय अधिकारी के बाद द्वितीय अपीलीय अधिकारी का दरवाजा खटखटाया और जब सूचना नहीं उपलब्ध कराई गई तो उसने राज्य सूचना आयोग की शरण ली.

यह भी पढ़ें-RTI में जानकारी मांगी तो SDM बोले-'बड़े जनहित के काम करवाता है तू एमएलए बनवा दूं क्या तुझे'

बताया जाता है ग्राम पंचायत के संबंध में आरटीआई से परेशान होकर ग्राम प्रधान लैलुन्निहार के प्रतिनिधि सिराजुद्दीन ने मोहम्मद मुबारक पर आरटीआई वापस लेने के लिए दबाव बनाया. इसके बाद मोहम्मद मुबारक ने एसपी को लिखे एक प्रार्थना-पत्र में ग्राम प्रधान प्रतिनिधि सिराजुद्दीन पर उसे जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया.

पत्र में आरटीआई कार्यकर्ता मोहम्मद मुबारक ने एसपी को लिखा है कि अगर उसके या उसके परिवार के साथ कोई अनहोनी होती है तो उसका सम्पूर्ण दायित्व प्रधान और उसके प्रतिनिधि का होगा.

(रिपोर्ट-सर्वेश, बलरामपुर)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर