बलरामपुरः पुलिस की प्रताड़ना से क्षुब्ध बेटे ने की खुदकुशी तो पिता ने भी फिनायल पीकर किया जान देने का प्रयास

बलरामपुर में पुलिस प्रताड़ना का मामला सामने आया है.
बलरामपुर में पुलिस प्रताड़ना का मामला सामने आया है.

बलरामपुर (Balrampur) के एसपी देवरंजन वर्मा ने इस पूरे मामले की जांच सीओ सदर को सौंपी है. उन्होंने कहा कि ललिया थाना क्षेत्र के मथुरा पुलिस चौकी के कर्मियों पर मृतक के परिजनों से धन वसूली के आरोप लगाए गए हैं. जांच में जो भी दोषी होंगे, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

  • Share this:
बलरामपुर. उत्तर प्रदेश के बलरामपुर (Balrampur) में एक युवक ने पेड़ से लटककर खुदकुशी (Suicide) कर ली. इस प्रकरण में पुलिस पर युवक को प्रताड़ित किए जाने का आरोप लग रहा है. उधर बेटे की मौत से क्षुब्ध उसके पिता ने भी जहरीला पदार्थ खाकर खुदकुशी का प्रयास (Attempt to Suicide) किया. घटना के बाद हड़कंप मच गया. मामले में जिले के एसपी ने जांच सीओ सदर को सौंपी है.

अवैध प्रेम संबंध का मामला

घटना हर्रैया थानाक्षेत्र के महादेव बांकी गांव की है. शनिवार देर शाम गांव के युवक राकेश ने बाग में पेड़ पर जाकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. राकेश की शादी 5 साल पहले कोतवाली देहात के हसुआडोल गांव की रहने वाली मुनक्का देवी से हुई थी. आरोप है कि एक वर्ष से राकेश का सम्बन्ध ललिया थानाक्षेत्र के गोकुली गांव में रहने वाली उसकी पत्नी मुनक्का की फुफेरी बहन पूनम से हो गया था. 5 दिन पहले राकेश की पत्नी जब अपने मायके गई तो राकेश अपनी रिश्ते की साली पूनम को अपने घर लेकर आ गया. पूनम के पिता और भाई की शिकायत पर ललिया थाने की पुलिस पूनम और राकेश को लेकर पुलिस चौकी मथुरा पहुंची.



पुलिस पर लगाया पिटाई और अवैध वसूली का आरोप
आरोप है कि मथुरा चौकी की पुलिस ने पूनम को तो उसके परिजनो को सौंप दिया लेकिन राकेश को रोके रखा और उसकी पिटाई की गई. यही नहीं राकेश को छोडने की एवज में पुलिस ने उसके परिजनों से रुपयो की डिमान्ड की. राकेश के बहनोई राजेश ने बताया कि पहले तो पुलिस ने 15 हजार की डिमान्ड की, बाद में मांग 30 हजार की कर दी गई. गरीब परिवार के लोग इतनी राशि जुटा पाने में असमर्थ थे. राकेश के परिजनो ने उसे चालान करने की बात भी कही लेकिन पुलिस ने चालान भी नही किया.

पुलिस की गिरफ्त से छूटा तो लगा ली फांसी

आरोप है कि राकेश के परिजनों से पुलिस ने कुल 28 हजार रुपये वसूल लिए. इसके बाद राकेश को छोड दिया. पुलिस की गिरफ्त से छूटने के बाद राकेश ने बाग में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. पुलिस की प्रताडना और बेटे की खुदकुशी से क्षुब्ध राकेश के पिता अंगनू ने भी फिनायल पीकर जान देने की कोशिश की. अंगनू को ग्रामीणों की मदद से अस्पताल पहुंचाया गया, जहां वह खतरे से बाहर है.

एसपी देवरंजन वर्मा ने इस पूरे मामले की जांच सीओ सदर को सौंपी है. उन्होंने कहा कि ललिया थाना क्षेत्र के मथुरा पुलिस चौकी के कर्मियों पर मृतक के परिजनों से धन वसूली के आरोप लगाए गए हैं. जांच रिपोर्ट आने के बाद जो भी दोषी होंगे, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज