अपना शहर चुनें

States

गोंडा: फूड प्वाइजनिंग से दो दर्जन लोगों की बिगड़ी तबीयत, इलाज जारी

भर्ती मरीजों की फोटो
भर्ती मरीजों की फोटो

मामला सामने आने के बाद सीएचसी अधीक्षक डाॅक्टर एस चन्द्रा ने बताया कि मामला फूड प्वाइजनिंग का लग रहा है. स्वास्थ्य विभाग की टीम लगाई गई गई है. सभी बीमार मरीजों का इलाज किया जा रहा है.

  • Share this:
गोंडा जिले में शनिवार शाम को करनैलगंज के सकरौरा मोहल्ले सहित आसपास के इलाके में रहने वाले करीब दो दर्जन लोगों को अचानक उल्टी, दस्त शुरू होने से हड़कंप मच गया. आनन फानन में बीमार लोगों को स्थानीय लोगों की मदद से सीएचसी और जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया. जानकारी के मुताबिक करीब दो दर्जन मरीजों का इलाज किया जा चुका है. तो वहीं चार मरीजों को गोंडा जिला अस्पताल रेफर किया गया है. डाॅक्टरों के अनुसार मामला फूड प्वाइजनिंग का लग रहा है.

बताया जा रहा है कि करनैलगंज के सकरौरा मोहल्ला निवासी भगवान दीन 48 वर्ष, फूलबानों 35, मोहम्मद सईद अंसारी 40, मोहम्मद समर 7 वर्ष, सकील अहमद 30 वर्ष, राजेन्द्र 25 वर्ष, राकेश राजपूत 22, दानिश 23 वर्ष, रशीद 20 वर्ष, ताहिरा 40 वर्ष, हिना 12, साजिद आलम 14 सहित दर्जनों लोगों को तेज उल्टी दस्त होना शुरू हो गया. आनन फानन में इन सभी को स्थानीय सीएचसी लाया गया. वहीं चार मरीजों की गंभीर हालत को देखते हुए उन्हें गोंडा जिला अस्पताल रेफर किया गया है.

सीएचसी में भर्ती मरीज




रेफर होने वालों में महरून निशा, अकबर अली, राशिद व एक अन्य शामिल हैं. वहीं स्थानीय निवासियों ने बताया कि और भी कई लोग बीमार है. जो सीएचसी न जाकर प्राइवेट चिकत्सकों से अपना इलाज करा रहे है. मामला सामने आने के बाद सीएचसी अधीक्षक डाॅक्टर एस चंद्रा ने बताया कि मामला फूड प्वाइजनिंग का लग रहा है. स्वास्थ्य विभाग की टीम लगाई गई गई है. सभी बीमार मरीजों का इलाज किया जा रहा है.
ये भी पढ़ें:

 स्मृति ईरानी ने अमेठी के लिए भेजा 'दिवाली तोहफा', बंटवाई 10 हजार साड़ियां

HC ने पूर्व सांसद धनंजय सिंह की 'Y' प्लस सुरक्षा वापस लेने पर सरकार से मांगा जवाब

इलाहाबाद HC: नोएडा के पूर्व चीफ इंजीनियर यादव सिंह की पत्नी को मिली अंतरिम जमानत
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज