बलरामपुरः शिक्षिकों ने बोर्ड परीक्षा की कॉपियों के मूल्यांकन का बहिष्कार किया

शिक्षकों ने चेतावनी देते हुए कहा है कि जब तक जिला विद्यालय निरीक्षक हृदय नारायण त्रिपाठी को हटाया नहीं जाता तब तक वो उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन नहीं करेंगे.

News18Hindi
Updated: March 19, 2018, 3:39 PM IST
बलरामपुरः शिक्षिकों ने बोर्ड परीक्षा की कॉपियों के मूल्यांकन का बहिष्कार किया
Balrampur: शिक्षकों ने डीआईओएस पर लगाया भ्रष्टाचार का आरोप
News18Hindi
Updated: March 19, 2018, 3:39 PM IST
बलरामपुर जिले में बोर्ड परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन करने से शिक्षकों के बहिष्कार कर दिया है. शिक्षकों के बहिष्कार के चलते तीन बाद भी जिले में कॉपियों का मूल्यांकन शुरु नहीं हो सका है.

दरअसल, गत 17 मार्च से 600 से ज्यादा माध्यमिक शिक्षकों ने डीआईओएस को हटाए जाने की मांग को लेकर मूल्यांकन कार्य का बहिष्कार कर दिया था. आन्दोलनरत शिक्षकों ने डीआईओएस पर भ्रष्टाचार के गम्भीर आरोप लगाते हुए उन्हें तत्काल हटाने मांग की है.

शिक्षकों ने चेतावनी देते हुए कहा है कि जब तक जिला विद्यालय निरीक्षक हृदय नारायण त्रिपाठी को हटाया नहीं जाता तब तक वो उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन नहीं करेंगे. डीआईओएस को हटाए जाने को लेकर शिक्षकों ने मूल्यांकन केन्द्र एमपीपी इन्टर कालेज में प्रदर्शन भी शुरु कर दिया है, जिससे पिछले तीन दिनों से मूल्यांकन कार्य ठप है, जिससे शिक्षा विभाग में हडकम्प मचा हुआ है.

हालांकि मामले की गम्भीरता को देखते हुए शासन के निर्देश पर शिक्षकों से वार्ता करने माध्यमिक शिक्षा के उपनिदेशक पहुंचे थे, लेकिन शिक्षकों ने उनके सामने भी वहीं मांग दोहरा दी है. ऐसा लगता है कि डीआईओएस के भ्रष्टाचार से त्रस्त शिक्षकों ने अब आर-पार की लड़ाई का मन बना लिया है और डीआईओएस को हटाए जाने तक वो काम पर नहीं लौटेंगे.
First published: March 19, 2018, 3:39 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...