लाइव टीवी

गोरखपुर में 100 रुपये किलो पहुंचा प्याज, दो दिन में 30 रुपये की बढ़ोतरी

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 26, 2019, 2:40 PM IST
गोरखपुर में 100 रुपये किलो पहुंचा प्याज, दो दिन में 30 रुपये की बढ़ोतरी
गोरखपुर में 100 रुपये किलो पहुंचा प्याज

गृहणी सीमा का कहना है कि प्याज 100 रुपये किलो होने के कारण उन्होंने घर में आधा किलो प्याज सिर्फ इसलिए लेकर रख लिया है कि अगर कोई मेहमान आ जाए तो इज्जत बच जाये.

  • Share this:
गोरखपुर. सब्जियों के बढ़े हुए दामों ने जनता को बेहाल कर रखा है. सब्जियों में जायका लाने वाले प्याज के रेट (Onion Price) एक बार फिर से आसमान छू रहे हैं. इसी कड़ी में मंगलवार को सीएम सिटी गोरखपुर (Gorakhpur) में प्याज की कीमत 100 रुपये के ऊपर पहुंच चुकी है. बाजार में प्याज 100 रुपये किलो बिक रही है. दुकानदारों का कहना है कि जहां वो दिन भर में 50-60 किलो प्याज बेंच देते थे, वहीं आज 5 किलो प्याज बिकना भी मुश्किल हो गया है. आमदनी तो छोड़िए लागत ही निकल जाये तो बड़ी बात होगी. बताया जा रहा है कि दो दिन में प्याज की कीमत में 30 रुपये की बढ़ोतरी हुई है.

मीडिल क्लास के टेबल से प्याज गायब

आम आदमी की हालत तो और भी खराब है, दुकान पर जाकर सिर्फ दाम पूछ कर ही आगे बढ़ जा रहा है, सलाद से दूर हुई प्याज अब सब्जी से भी बहुत दूर हो गयी है. क्योंकि स्वाद के चक्कर में मीडिल क्लास के लोग अपना बजट बहुत नहीं बिगाड़ सकते. मीडिल क्लास को अपने सीमित बजट में ही खर्चा चलाना होता है. गृहणी सीमा का कहना है कि प्याज 100 रुपये किलो होने के कारण उन्होंने घर में आधा किलो प्याज सिर्फ इसलिए लेकर रख लिया है कि अगर कोई मेहमान आ जाए तो इज्जत बच जाये.

 शादी की बुकिंग पर पड़ा असर

सब्जियों में प्याज का तड़का लगा सकें नहीं तो घर में अब बिना प्याज के ही सब्जी बन रही है. शादी के मौसम में कैटरिंग का काम करने वाले प्रमोद कहना है कि प्याज की महंगाई ने बजट बिगाड़ कर रख दिया है, शादी की बुकिंग पहले ही कर लिया था और अब प्याज इतनी महंगी हो गयी है. प्याज कटाते वक्त लोगों के आखों में आसूं आ जाते हैं, पर आज दाम सुनकर ही लोगों के होश फाख्ता हो जा रहा है. मीडिल क्लास के लोग प्याज खाना तो छोड़ अब उसे दुकानों पर देखकर ही संतुष्ट हो जा रहे हैं.​

एक महीने में 1 लाख टन प्याज होगा इम्पोर्ट
इससे पहले केंद्रीय खाद्य और उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने एक ट्वीट में कहा, सरकार ने कीमतों को नियंत्रित करने के लिए एक लाख टन प्याज आयात करने का निर्णय किया है. उन्होंने कहा कि एमएमटीसी को 15 नवंबर से 15 दिसंबर के बीच प्याज का आयात करने और घरेलू बाजार में वितरण के लिए इसे उपलब्ध कराने के लिए कहा गया है. मंत्री ने कहा कि नाफेड को देश भर में आयातित प्याज की आपूर्ति करने का निर्देश दिया गया है. पिछले सप्ताह सरकार ने कहा था कि वह प्याज की घरेलू आपूर्ति को बढ़ाने के लिए संयुक्त अरब अमीरात सहित अन्य देशों से इस सब्जी का पर्याप्त मात्रा में आयात करेगी.
Loading...

ये भी पढ़ें:

अयोध्या फैसले पर सुन्नी वक्फ बोर्ड की बैठक खत्म, नहीं दाखिल होगा रिव्यू पिटीशन

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गोरखपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 26, 2019, 2:40 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...