Gorakhpur News: पुलिस के हत्थे चढ़े मासूमों के सौदागर, दिल्ली जा रहे 15 नाबालिग बच्चे रेस्क्यू

पुलिस के हत्थे चढ़े मासूमों के सौदागर

पुलिस के हत्थे चढ़े मासूमों के सौदागर

इस मामले में एसपी क्राइम (SP Crime) एमपी सिंह का कहना है कि सूचना पर एएचटीयू टीम ने रेस्क्यू करके बच्चों को बरामद किया है.

  • Share this:
गोरखपुर. सीएम सिटी गोरखपुर (Gorakhpur) में मानव तस्करी के एक बड़े रैकेट का पर्दाफाश एएचटीयू टीम ने किया है. एएचटी प्रभारी अजीत सिंह की अगुवाई में रेस्क्यू के दौरान 15 नाबालिग बच्चों को बरामद किया है. वहीं तीन मानव तस्करों की भी गिरफ्तारी की गई है. बता दें कि बच्चों को बिहार के पूर्णिया जिले से दिल्ली बाल श्रम के लिए ले जाया जा रहा था. मुखबिर की सूचना पर एसपी क्राइम के निर्देश पर एएचटीयू टीम ने शहर के तेंनुआ टोल प्लाजा के पास छापेमारी कर 15 नाबालिक बच्चों की बरामदगी की है. बस के जरिए बच्चों को दिल्ली ले जाया जा रहा था.

बरामद बच्चों को काउंसलिंग के लिए चाइल्डलाइन भेजा गया है. साथ ही आरोपियों को गिरफ्तार करके पुलिस लाइन लाया गया है. जहां पर आरोपी मानव तस्करों से पूछताछ की जा रही है. गिरफ्त में आए आरोपी और बच्चे बिहार के पूर्णिया जिले के रहने वाले हैं. इस मामले में एसपी क्राइम एमपी सिंह का कहना है कि सूचना पर एएचटीयू टीम ने रेस्क्यू करके बच्चों को बरामद किया है. सभी बच्चों को चाइल्ड लाइन को सौंपा गया है. एसपी के मुताबिक बच्चों को दिल्ली बाल श्रम के लिए ले जाया जा रहा था.

'आजादी का अमृत महोत्सव' में CM योगी ने शहीदों को किया नमन, बोले- भारत होगा सबसे शक्तिशाली देश

फिलहाल काउंसलिंग के बाद बच्चों के परिजनों को सौंपा जाएगा. गौरतलब है कि लॉकडाउन के बाद पटरी पर लौटे उद्योग-धंंधे में बाल श्रम के लिए बच्चों की डिमांड बढ़ सी गई है. ऐसे में शातिर
बिहार और बंगाल के बच्चों को माानव तस्करी के जरिए दिल्ली-पंजाब ले जाने की फिराक थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज