Gorakhpur: ADG गोरखपुर ने पुलिस की इमेज चमकाने के लिए बच्चों को जोड़ा, जानिए, क्या है उनका खास प्लान

गोरखपुर जोन के एडीजी ने पुलिस की छवि को चमकाने के लिए बनाया विशेष प्लान.

गोरखपुर जोन के एडीजी ने पुलिस की छवि को चमकाने के लिए बनाया विशेष प्लान.

गोरखपुर जोन ADG अखिल कुमार ने पुलिस की छवि को चमकाने के लिए सोशल मीडिया का एक वालंटियर ग्रुप बनाया है. वॉलंटियर के इस ग्रुप में बच्चे और युवाओं को शामिल किया गया है. जो तकनीकी तौर पर दक्ष हैं और पुलिस की छवि को सोशल मीडिया पर ठीक तरीके से पेश करेंगे.

  • Last Updated: April 3, 2021, 6:08 PM IST
  • Share this:
गोरखपुर. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गृह क्षेत्र गोरखपुर में जोन के एडीजी अखिल कुमार ने पुलिस की छवि को सुधारने के लिए एक खास प्लान बनाया है. उनके इस प्लान से बच्चों को जोड़ा गया है. असल में उन्होंने सोशल मीडिया (social media) पर एक वालंटियर ग्रुप (Volunteer group)

बनाया है. जिसमें बच्चे और युवाओं को शामिल किया गया है. वह तकनीकी तौर पर दक्ष हैं. ये सभी वालंटियर ग्रुप से जुड़कर पुलिस की छवि को सोशल मीडिया पर ठीक तरीके से पेश करेंगे. साथ ही पुलिसिंग को भी बेहतर बनाया जा सकेगा.

दरअसल एडीजी अखिल कुमार का मानना है कि तेजी से बदलते सूचना-क्रांति के इस दौर में सोशल मीडिया एक बड़ा प्लेटफार्म है. एडीजी का कहना है कि सूचना का आदान-प्रदान करने के लिए सोशल मीडिया बेहतरीन जरिया साबित हो रहा है. ऐसे में सोशल मीडिया, जहां पुलिस द्वारा किये गये गुडवर्क को हाईलाइट किया जाना चाहिए, ताकि जनता में पुलिस की एक अच्छी छवि बने. साथ ही दूसरे पुलिसकर्मियों के लिए एक मिसाल बने. एडीजी ने देवरिया पुलिस द्वारा प्रसूता महिला की मदद करने पर उसने अपने बेटे का नाम ही सिपाही रख दिया. जबकि बस्ती में खुदकुशी करने से एक महिला को सिपाही ने अपनी जान की बाजी लगाकर बचाया था. एडीजी का मानना है कि सोशल मीडिया वालंटियर के माध्यम से सामुदायिक पुलिसिंग को और मजबूत बनाया जायेगा.

अच्छी स्टोरी और कार्टून के जरिए निखारेंगे छवि 
वहीं एडीजी के मीडिया सेल प्रभारी के साथ काम करने के लिए चुने गये वॉलंटियर काफी उत्साहित हैं. आईटी के छात्र अमन त्रिपाठी का कहना है कि पुलिस के गुडवर्क की स्टोरी बनाकर उसे सोशल मीडिया पर हाईलाइट किया जायेगा. ताकि पुलिस के नकारात्मक छवि में सुधार लाया जा सके. जबकि प्रचिता उपाध्याय का कहना है कि पुलिस के गुडवर्क की शर्ट स्टोरी बनाने के साथ अच्छे कार्टून के जरिए भी पुलिस की छवि को निखारा जायेगा.

निश्चित तौर पर पुलिस की छवि को चमकाने को लेकर एडीजी जोन अखिल कुमार की पहल सराहनीय है। क्योंकि समाज में अक्सर पुलिस को खलनायक के तौर पर पेश किया जाता रहा है, लेकिन एडीजी जोन का सोशल मीडिया वालंटियर ग्रुप अब पुलिस के गुडवर्क को हाइलाइट करने के साथ पुलिस और पब्लिक के बीच एक बेहतर तालमेल बनाने का काम करेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज