लाइव टीवी

गोरखपुर: बिजली विभाग का कर्मचारी 22 हजार की घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार

Anil Singh | News18 Uttar Pradesh
Updated: September 17, 2019, 6:48 PM IST
गोरखपुर: बिजली विभाग का कर्मचारी 22 हजार की घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार
गोरखपुर में एंटी करप्शन टीम ने बिजली विभाग के सहायक लेखाकार में घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है.

गोरखपुर में एंटी करप्शन टीम (Anti Corruption Department) की ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी है. टीम ने मंगलवार को बिजली विभाग (Electricity Department) के एक भ्रष्ट सहायक लेखाकर अवनीश सिंह पर शिकंजा कसा.

  • Share this:
गोरखपुर. गोरखपुर में एंटी करप्शन टीम (Anti Corruption Department)  की ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी है. टीम ने मंगलवार को बिजली विभाग (Electricity Department) के एक भ्रष्ट सहायक लेखाकर अवनीश सिंह पर शिकंजा कसा. एंटी करप्शन टीम ने उसे 22 हजार रुपये की घूस (Bribe) लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है. पता चला है कि सहायक लेखाकार विभाग में पंजीकृत एक ठेकेदार से रिश्वत मांग रहा था. ठेकेदार ने सिद्धार्थनगर विभाग में हैंड बिलिंग कराया था. सिद्धार्थनगर जिले में अवनीश सिंह बिजली विभाग में सहायक लेखाकार के पद पर तैनात हैं.

खोराबार थाना के इंजीनियरिंग कालेज के पास से ये गिरफ्तारी की गई. जैसे ही अवनीश सिंह ने घूस के रुपए पकड़े, उसे रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया गया. एंटी करप्शन टीम ने घूसखोर लेखाकर अवनीश सिंह खोराबार पुलिस के सुपुर्द कर दिया है. उधर सरकारी महकमों में एंटी करप्शन टीम की ताबड़तोड़ कार्रवाई से हड़कंप मचा हुआ है.

40 हजार घूस लेते दरोगा गिरफ्तार

अभी पिछले हफ्ते ही गोरखपुर में रिश्वतखोर दरोगा आशीष मिश्रा पर एंटी करप्शन टीम ने शिकंजा कसा था. एंटी करप्शन टीम के प्रभारी देव प्रकाश रावत की अगुवाई में रंगे हाथ 40 हजार की रिश्वत लेने के दौरान दारोगा को पकड़ा. वहीं रिश्वत के पैसों को जब्त करने के साथ आरोपी दरोगा को कैंट पुलिस के सुपुर्द किया. दिलचस्प है कि आरोपी दरोगा आशीष मिश्रा जिले की बेलघाट थाना के कुरी बाजार का चौकी इंचार्ज है. वहीं वादी से मुकदमे की विवेचना में फाइनल रिपोर्ट लगाने की एवज में 40 हजार रिश्वत मांग रहा था.

दारोगा की गिरफ्तारी पर एंटी करप्शन टीम के प्रभारी देव प्रकाश रावत का कहना है कि बेलघाट थाना के कुरी बाजार निवासी अजय कुमार ने शिकायत की थी. जिसमें उसने बताया था कि उसके भाइयों पर दर्ज मुकदमें में फाइनल रिपोर्ट लगाने की एवज में दरोगा आशीष मिश्रा डेढ़ लाख घूस मांग रहे थे. गोरखपुर एंटी करप्शन टीम के प्रभारी निरीक्षक देव प्रकाश रावत के नेतृत्व में टीमगोरखपुर एंटी करप्शन टीम के प्रभारी निरीक्षक देव प्रकाश रावत के नेतृत्व में टीम गठित हुई. शिकायतकर्ता अजय उर्फ मनोज ने गुरुवार को दिन में बेलघाट में दरोगा के मोबाइल पर फोन कर 40 हजार रुपये तैयार होने की जानकारी दी. इस पर दरोगा ने बताया कि वह गोरखपुर आया हुआ है. दरोगा के बुलाने पर पीड़ित गोरखपुर आ गया.

चौराहे पर घूस लेते ही रंगे हाथ धरे गए

वहीं यातायात चौराहे पर दरोगा आशीष मिश्रा ने पीड़ित से 40 हजार रुपये लेकर जैसे ही जेब में रखा एंटी करप्शन टीम ने दरोगा को पकड़ लिया. टीम उसे लेकर कैंट थाने लेकर पहुंची. एंटी करप्शन टीम के प्रभारी देव प्रकाश रावत की तहरीर पर कैंट पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर दरोगा आशीष मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया.
Loading...

ये भी पढ़ें:

सीएम सिटी गोरखपुर में घूस लेते रंगे हाथ दबोचा गया UP पुलिस का दरोगा
गोरखपुर में 20 हजार की घूस लेते महिला क्लर्क गिरफ्तार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गोरखपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 17, 2019, 6:48 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...