अपना शहर चुनें

States

गोरखपुर सर्राफा लूटकांड में बड़ा खुलासा: बस्ती का दरोगा ही निकला सरगना, सिपाहियों को साथ मिलकर करता था लूट

गोरखपुर पुलिस ने सर्राफा व्यवसायी लूटकांड का सनसनीखेज खुलासा किया है.
गोरखपुर पुलिस ने सर्राफा व्यवसायी लूटकांड का सनसनीखेज खुलासा किया है.

Gorakhpur News: बस्ती के पुलिसकर्मियों ने दो सर्राफा कारोबारियों से चेकिंग का झांसा देकर 19 लाख का सोना और 10 लाख नगद लूट लिए थे_ SSP जोगेन्द्र कुमार ने 24 घंटे के अंदर ही सनसनीखेज लूटकांड का खुलासा कर सरगना दारोगा महेन्द्र यादव समेत 6 आरोपियों की गिरफ्तारी की है.

  • Share this:
गोरखपुर. उत्तर प्रदेश की गोरखपुर पुलिस ने वर्दी की आड़ में लूट की सनसनीखेज वारदात का खुलासा किया है. दिलचस्प है कि बस्ती जिले में तैनात दारोगा धर्मेन्द्र यादव (Sub Inspector Dharmendra Yadav) ही लुटेरों का सरगना निकला है. आरोप है कि दो सिपाहियों महेन्द्र यादव और संतोष यादव के साथ मिलकर दारोगा धर्मेन्द्र यादव ने सीएम सिटी में ताबड़तोड़ दो लूट (Robbery) की बड़ी वारदात को अंजाम दिया था. खासकर सर्राफा कारोबारियों से सोना, चांदी और नगदी लूटकर पुलिस को चुनौती दे डाली थी.

बस्ती पुलिस के दागी पुलिसकर्मियों ने दो सर्राफा कारोबारियों से चेकिंग का झांसा देकर 19 लाख का सोना और 10 लाख नगद लूट लिए थे और फरार हो गए थे. एसएसपी जोगेन्द्र कुमार ने वारदात को लेकर गंभीरता दिखाते हुए 24 घंटे के अंदर ही सनसनीखेज लूटकांड का खुलासा कर दिया. साथ ही सरगना दारोगा महेन्द्र यादव समेत 6 आरोपियों की गिरफ्तारी पुलिस ने की है.

लूट का पूरा माल बरामद
एसएसपी ने बताया कि बस्ती जिले के पुरानी बस्ती थाने में तैनात दारोगा महेन्द्र यादव और उसके साथ के दो सिपाही सर्राफा कारोबारियों से लूट कर रहे थे. पुलिस ने घटना के दौरान लूटे गये सोना और नगदी की बरामदगी की है. साथ ही शाहपुर थाना के खंजाची चौराहे के पास से दिसंबर 29 को सर्राफा कारोबारी के मुनीब से लूटे गये चांदी की भी बरामदगी पुलिस ने की है.
कस्टम अधिकारी बताकर दिया लूटकांड को अंजाम


आपको बता दें कि वारदात के दौरान खाकी के दागी पुलिसकर्मियों ने खुद को कस्टम अधिकारी बताकर लूटकांड को अंजाम दिया था. इसके साथ ही एसएसपी ने बताया है कि गिरफ्त में आए तीनों पुलिसकर्मियों के अलावा दूसरे तीन आरोपियों में से महाराजगंज जिले के निचलौल कस्बे का शैलेश यादव सेवन-सी नाम से न्यूज पोर्टल चलाया करता है. साथ ही शैलेश यादव दागी पुलिसकर्मियों के लिए मुखबिरी किया करता था. शैलेश यादव को सूचना निचलौल के सर्राफा बाजार में सक्रिय प्रॉपर्टी डीलर दुर्गेश अग्रहरि दिया करता था.

दागी पुलिसकर्मियों की होगी बर्खास्तगी: एसएसपी
एसएसपी ने खाकी के दागी पुलिसकर्मियों पर कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है. एसएसपी ने कहा है कि सर्राफा कारोबारियों से लूट करने के आरोपी दागी दारोगा और दोनों सिपाहियों को नौकरी से बर्खास्त करने की सिफारिश आईजी बस्ती से करेंगे. साथ ही गैंगस्टर एक्ट के साथ एनएसए की कार्रवाई भी की जायेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज