आधार कार्ड बंधक रखकर दोनों भाइयों ने खरीदी साइकिल, फिर लुधियाना से चलकर पहुंचे गांव

आधार कार्ड बंधक रखकर दोनों भाइयों ने खरीदी साइकिल (फाइल फोटो)
आधार कार्ड बंधक रखकर दोनों भाइयों ने खरीदी साइकिल (फाइल फोटो)

दोनों 21 अप्रैल को साइकिल से ही लुधियाना से घर के लिए निकल पड़े. घर पहुंचते ही उनकी आंखें खुशी से भर आईं. परिजनों से दूरी बनाते हुए कहा कि अब घर आ गए हैं, सब टेंशन दूर हो गई है.

  • Share this:
महराजगंज. वैश्विक महामारी (Pandemic) कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण के फैलाव से बचाव के लिए पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) जारी है. इसी क्रम में यूपी के महराजगंज जिले के धानी बाजार के दो भाइयों प्रकाश व राम अचल ने लॉकडाउन में काम बंद होने पर आधार कार्ड बंधक रखकर साइकिल खरीदी और अपने गांव पहुंच गए. दस दिन में 1130 किलोमीटर साइकिल चलाकर वे अपने गांव पहुंचे. बता दें कि दोनों भाई लुधियाना कमाने गए थे. वहीं लॉकडाउन में काम-धंधा बंद हो गया. जेब में केवल चंद रुपये बचे थे. जबकि घर जाने के लिए कोई साधन नहीं था. मदद की तलाश में वे लुधियाना में ही साइकिल स्टोर पर पहुंचे, जहां दोनों ने दुकानदार को मजबूरी बताई.

दुकानदार ने दिखाई दरियादिली
500 रुपये और आधार कार्ड देते हुए कहा कि अगर भरोसा हो तो आधार कार्ड बंधक के तौर पर रख लीजिए. दो साइकिल दे दीजिए. घर पहुंचने के बाद पैसा भेज देंगे. उनकी बेबसी देख दुकानदार ने भी दरियादिली दिखाई और साइकिलें दे दीं. दोनों 21 अप्रैल को साइकिल से ही लुधियाना से घर के लिए निकल पड़े. घर पहुंचते ही उनकी आंखें खुशी से भर आईं. परिजनों से दूरी बनाते हुए कहा कि अब घर आ गए हैं, सब टेंशन दूर हो गई है. लुधियाना में तो ऐसा महसूस हो रहा था कि जिंदगी वहीं खत्म हो जाएगी.

स्वस्थ श्रमिकों को घर में क्वारंटाइन किया जाए- सीएम योगी
इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि एक बार में एक राज्य के प्रवासी श्रमिकों को प्रदेश में वापस लाने की कार्रवाई की जाए. उन्होंने कहा कि वापस आए सभी श्रमिकों का अनिवार्य रूप से स्वास्थ्य परीक्षण किया जाए. स्वस्थ श्रमिकों को राशन किट के साथ 14 दिन के पृथक-वास के लिए घर भेजा जाए. जिनके स्वास्थ्य में कमी मिले, ऐसे श्रमिकों और कामगारों को क्वारंटाइन सेंटर में रखकर उपचार की व्यवस्था की जाए.



यूपी में अबतक 2281 केस, 41 लोगों की कोरोना से मौत
प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने कहा कि प्रदेश में अब तक 2281 केस सामने आए हैं. जिनमें 1685 एक्टिव केस हैं. उपचार के बाद 2281 में से 555 मरीज पूरी तरह स्वस्थ हो गए हैं और उन्हें घर भेज दिया गया है. हालांकि कोरोना के कारण प्रदेश में 41 लोगों की मौत हुई है. प्रदेश के 63 जनपद कोरोना से प्रभावित हुए हैं.

ये भी पढ़ें:- वाराणसी: TikTok वीडियो में 'सिंघम' बनकर एके-47 लहराते दिखे दरोगा, बैठी जांच
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज