Home /News /uttar-pradesh /

Manish Gupta Murder: CBI के रडार पर कारोबारी मनीष के करीबी, चंदन सैनी से 4 घंटे हुई पूछताछ

Manish Gupta Murder: CBI के रडार पर कारोबारी मनीष के करीबी, चंदन सैनी से 4 घंटे हुई पूछताछ

Gorakhpur:  मनीष का तीसरा परिचित धनंजय किसी कारण नहीं आ पाया.

Gorakhpur: मनीष का तीसरा परिचित धनंजय किसी कारण नहीं आ पाया.

Gorakhpur News: गौरतलब है कि बीते 27 सितंबर को रामगढ़ताल थाना के होटल कृष्णा पैलेस में ठहरे कानपुर के कारोबारी मनीष गुप्ता की मौत हुई थी. इस मामले में मृतक के पत्नी की तहरीर पर तत्कालीन रामगढ़ताल थानेदार समेत 6 पुलिसकर्मियों पर केस दर्ज किया गया था. जबकि एसआईटी कानपुर की टीम ने गोरखपुर आकर सभी आरोपी पुलिसकर्मियों की गिरफ्तारी करने के साथ ही पूरे प्रकरण की विस्तृत जांच की थी. वहीं अब सीबीआई टीम पूरे प्रकरण की तफ्तीश में जुट गयी है.

अधिक पढ़ें ...

गोरखपुर. कानपुर के कारोबारी मनीष गुप्ता (Manish Gupta Murder) की हत्या के मामले में गोरखपुर (Gorakhpur) पहुंची सीबीआई (CBI) टीम जांच पड़ताल में जुट गयी है. शहर के एनेक्सी भवन के गेस्ट हाऊस में ठहरी सीबीआई ने मनीष गुप्ता के गोरखपुर के परिचितों को बुलाकर उनसे घंटों पूछताछ की है. इस दौरान मनीष गुप्ता से उनके संबंध और गोरखपुर आने की वजह को भी जानने की कोशिश सीबीआई ने की है. वहीं पूछताछ के लिए तलब किए गये गोरखपुर जिले के राणा प्रताप ने मीडिया को बताया है कि उन्हें और चंदन सैनी को सीबीआई द्वारा पूछताछ के लिए बुलाया गया था. इस दौरान मनीष गुप्ता की मौत से जुड़े सभी पहलूओं को लेकर सीबीआई ने दो घंटे की पूछताछ में करीब पचास सवाल पूछे हैं.

जबकि चंदन सैनी से सीबीआई टीम द्वारा 4 घंटे की पूछताछ की गयी है. हालांकि मनीष का तीसरा परिचित धनंजय किसी कारण नहीं आ पाया. राणा प्रताप और चंदन को रविवार को दोबार सीबीआई टीम ने बुलाया है. इसके अलावा सीबीआई मनीष के साथ गोरखपुर घुमने आये हरियाणा के दो दोस्त प्रदीप कुमार और हरवीर सिंह को भी जल्द ही पूछताछ के लिए बुलाएगी. मामले की जांच करने गुरुवार की देर शाम सीबीआई की छह सदस्यीय टीम गोरखपुर पहुंची थी. इसी कड़ी में जहां पहले दिन रामगढ़ताल थाने पर जाकर सीबीआई टीम ने घटना से जुड़े सभी पहलूओं की पड़ताल की है. वहीं दूसरे दिन गेस्ट हाऊस में मनीष गुप्ता के गोरखपुर के परिचितों को बुलाकर उनसे पूछताछ की है.

UP: काशी में जब अचानक एक बच्चे ने गृहमंत्री अमित शाह के छुए पैर, जानें पूरा माजरा

गौरतलब है कि बीते 27 सितंबर को रामगढ़ताल थाना के होटल कृष्णा पैलेस में ठहरे कानपुर के कारोबारी मनीष गुप्ता की मौत हुई थी. इस मामले में मृतक के पत्नी की तहरीर पर तत्कालीन रामगढ़ताल थानेदार समेत 6 पुलिसकर्मियों पर केस दर्ज किया गया था. जबकि एसआईटी कानपुर की टीम ने गोरखपुर आकर सभी आरोपी पुलिसकर्मियों की गिरफ्तारी करने के साथ ही पूरे प्रकरण की विस्तृत जांच की थी. वहीं अब सीबीआई टीम पूरे प्रकरण की तफ्तीश में जुट गयी है.

Tags: CBI investigation, Gorakhpur news, Manish gupta murder case, UP crime, UP news, UP police, Yogi government, गोरखपुर

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर