Assembly Banner 2021

World Tourism Day 2020: सीएम योगी बोले- 'पर्यटन के लिहाज से आगे है यूपी'

'पर्यटन के लिहाज से आगे है यूपी'

'पर्यटन के लिहाज से आगे है यूपी'

सीएम योगी (CM Yogi) ने कहा कि गुरु गोरक्षनाथ की पावन भूमि गोरखपुर आने वाले समय इको टूरिज्म के क्षेत्र में देश के नक्शे में प्रमुखता से दिखने की ओर अग्रसर है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 27, 2020, 6:18 PM IST
  • Share this:
गोरखपुर. वर्ल्ड टूरिज्म डे (World Tourism Day 2020): आज वर्ल्ड टूरिज्म डे है. इस मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने रविवार को गोरखपुर में इको-टूरिज्म पर एक डॉक्यूमेंट्री का लोकार्पण किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि यूपी न केवल जनसंख्या के मामले में देश का सबसे बड़ा राज्य है, मेरा मानना है कि पर्यटन के लिहाज से भी यह बहुत संभावना हैं. यहां केवल धार्मिक ही नहीं बल्कि इको टूरिज्म को बहुत बढ़ावा दिया जा रहा है.

उन्होंने कहा कि यूपी में कई स्पॉट हैं, जिन्हें इको टूरिज्म के लिए विकसित किया जा सकता है. पर्यटन न केवल हमें प्रकृति के करीब लाता है बल्कि रोजगार के अवसर भी प्रदान करता है. सीएम योगी ने कहा कि गुरु गोरक्षनाथ की पावन भूमि गोरखपुर आने वाले समय इको टूरिज्म के क्षेत्र में देश के नक्शे में प्रमुखता से दिखने की ओर अग्रसर है. इस देश में उत्तर प्रदेश सरकार की कुछ महत्वाकांक्षी योजनाओं पर तेजी से कार्य हो रहा है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखनाथ मंदिर में गोरखपुर वन प्रभाग द्वारा निर्मित कराए गए इको टूरिज्म पर दो शार्ट फिल्मों के लोकार्पण समारोह को संबोधित कर रहे थे. इन शार्ट फिल्मों को हेरिटेज फांउडेशन ने बनाया है. उन्होंने फिल्में देखी और उसकी सराहना की.

ये भी पढे़ं- UP: महिला डॉक्‍टर ने पंखे से लटककर की आत्महत्या, तीन महीने पहले हुई थी शादी



वन विभाग गोरखपुर द्वारा बनाई गई ये मिनी डॉक्यूमेंट्री फिल्म इन्हीं परियोजनाओं और इको टूरिज्म के क्षेत्र में गोरखपुर शहर के आगे बढ़ने का प्रतिबिंब है. योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में पर्यटन की दृष्टि से अनंत संभावनाएं हैं. हमारे पास यहां पर धार्मिक पर्यटन ही नहीं बल्कि इको पर्यटन के लिए भी अपार संभावनाएं मौजूद हैं. उन्होंने कहा कि पर्यटन का मतलब केवल पिकनिक स्पॉट नहीं है. यह हमें प्रकृति के नजदीक ले जाता है और साथ ही रोजगार की ढेर सारी संभावनाओं को बढ़ाता है.
भविष्य की परियोजनाओं पर चर्चा

बता दें कि इस फिल्म में गोरखपुर स्थित कुसम्ही जंगल, बुढ़िया माई स्थान, शहीद अशफाक उल्लाह खान, प्राणी उद्यान, रामगढ़ झील, परगापुरताल और लेहड़ा देवी मंदिर सहित प्रदेश सरकार की भविष्य की परियोजनाओं का भी जिक्र किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज