Assembly Banner 2021

सीएम योगी रखेंगे नौ दिनों तक नवरात्रि का व्रत, ये रहा गोरखपुर का पूरा शेड्यूल

सीएम योगी आदित्यनाथ

सीएम योगी आदित्यनाथ

सीएम योगी नवरात्रि के दौरान 9 दिन व्रत रखेंगे और सिर्फ फल और गाय के दूध का सेवन करेंगे. जानकारी के मुताबिक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 9 अक्टूबर की रात ही गोरखनाथ मंदिर आ जाएंगे.

  • Share this:
शारदीय नवरात्र के दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ गोरखनाथ मंदिर में कलश स्थापना करेंगे. जहा पूरे 9 दिन व्रत रखने के बाद वे मां दुर्गा की पूजा के पारंपरिक अनुष्ठान को श्रद्धा के साथ पूरा करेंगे. सीएम योगी नवरात्रि के दौरान 9 दिन व्रत रखेंगे और सिर्फ फल और गाय के दूध का सेवन करेंगे. जानकारी के मुताबिक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 9 अक्टूबर की रात ही गोरखपुर आ जाएंगे. सबसे खास बात है कि नवरात्र के दिनों में व्रत रहने के बावजूद सीएम योगी आदित्यनाथ की उर्जा में कोई कमी नहीं दिखती. वह सुबह साढ़े तीन बजे उठकर योग और नियमित दिनचर्या का पालन करते हैं.

10 अक्टूबर की शाम 5 बजे मंदिर में कलश यात्रा निकाली जाएगी. योगी की अगुवाई में मंदिर के प्रधान पुजारी योगी कमल नाथ समेत गोरखनाथ मंदिर परिवार के सभी पुजारी शामिल होंगे. वेद के मांगलिक मंत्रों के उच्चारण के बीच निकलने वाली शोभायात्रा मुख्य मंदिर परिसर से निकलकर भीम सरोवर तक जाएगी.

यहां कलश भरने के बाद शक्ति मंदिर में कलश की स्थापना कर पूजन-अर्चन होगा. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार सुबह लखनऊ जाएंगे. उनकी अनुपस्थिति में प्रतिदिन गोरखनाथ मंदिर में श्रीमद् देवी भागवत की कथा और दुर्गा सप्तशती का पाठ शाम 4 बजे से 6 बजे तक संचालित होगा. 16 अक्टूबर की शाम तक सीएम योगी मंदिर आ जाएंगे. 17 अक्टूबर को भी मंदिर में पूजा-अर्चना करेंगे. इसी कड़ी में 18 अक्टूबर का महा नवमी श्रद्धा के साथ मनाई जाएगी.



इस दिन सीएम योगी 12 बजे से कन्या पूजन और कन्या भोज श्रद्धा पूर्वक संपन्न करेंगे. कुंवारी कन्याओं का पांव धोकर और वस्त्र प्रदान कर पूजा-अर्चना करने के बाद सभी को प्रसाद ग्रहण कराया जाएगा. 19 अक्टूबर को विजयादशमी के दिन सुबह मुख्यमंत्री मंदिर में श्रीनाथ जी की पूजा-अर्चना करेंगे. इस दिन नाथ संप्रदाय के साधु-संत और श्रद्धालु तिलक हाल में योगी आदित्यनाथ का तिलक करेंगे.
उसके बाद खुली जीप में सवार होकर शोभा यात्रा के साथ मानसरोवर मंदिर के लिए प्रस्थान करेंगे. यहीं से सीएम योगी आदित्यनाथ मानसरोवर रामलीला मैदान में पहुंचकर महादेव पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम का तिलक और आरती उतारेंगे. रावण वध के कार्यक्रम में शामिल होने के बाद शोभायात्रा मंदिर वापस लौट आएगी.

सीएम योगी 20 अक्टूबर को लखनऊ के लिए प्रस्थान करेंगे. बता दें कि मुख्यमंत्री बनने के पहले योगी आदित्यनाथ नवरात्र में गोरखनाथ मंदिर प्रांगण से बाहर नहीं निकलते थे. लेकिन, मुख्यमंत्री का दायित्व संभालने के बाद उन्होंने इस परंपरा को तोड़ा है. सीएम योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा को लेकर जिला प्रशासन तैयारियों में जुट गया है.

ये भी पढ़ें:

यूपी में पेंशन का टेंशन: जानिए क्या है पुरानी व्यवस्था और NPS में अंतर?

गुजरात पलायन के मुद्दे पर तेजस्वी यादव ने सीएम योगी पर कसा तंज, किया ये tweet...

योगी सरकार ने नए शस्त्र लाइसेंस पर हटाई रोक, फायरिंग टेस्ट भी खत्म
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज