Home /News /uttar-pradesh /

सीएम योगी बोले- जनसंख्या कम होने के बावजूद मुसलमानों को योजनाओं का मिला ज्यादा लाभ

सीएम योगी बोले- जनसंख्या कम होने के बावजूद मुसलमानों को योजनाओं का मिला ज्यादा लाभ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा यूपी में मुसलामानों को लाभकारी योजनाओं का ज्यादा लाभ मिला. (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा यूपी में मुसलामानों को लाभकारी योजनाओं का ज्यादा लाभ मिला. (फाइल फोटो)

उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने कहा कि उनकी सरकार में लाभार्थियों के साथ जात-पात या संप्रदाय के नाम पर भेदभाव नहीं किया गया.

    गोरखपुर. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने कहा है कि उनकी सरकार 'सबका साथ, सबका विकास' की राह पर काम कर रही है. बुधवार को सरकार के ढाई साल पूरे होने के मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में मुस्लिमों (Muslims) की जनसंख्या 20 फ़ीसदी से कम होने के बावजूद इस समुदाय के हर तीसरे व्यक्ति ने सरकारी योजनाओं (Government Schemes) का लाभ उठाया है.

    नेटवर्क 18 के एडिटर-इन-चीफ राहुल जोशी के साथ एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उनकी सरकार में लाभार्थियों के साथ जात-पात या संप्रदाय के नाम पर भेदभाव नहीं किया गया. बकौल सीएम योगी, अगर कोई उनके आंकड़ों को देखेगा तो पता चेलगा कि कल्याणकारी योजनाओं के बड़े हिस्से का लाभ मुस्लिम समुदाय को मिला है.

    'गरीब गरीब होता है'

    योगी आदित्यनाथ ने कहा, 'गरीब गरीब होता है. बिना किसी भेदभाव के सरकारी योजनाएं सभी तक पहुंचनी चाहिए. हमारा उद्देश्य है कि सभी का विकास हो. याद करिए वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'सबका साथ, सबका विकास' का नारा दिया था. यह एक नारा मात्र नहीं है. यह एक सच्चाई है और हमें गर्व है कि हम इसे जमीन पर उतार सके.' मुख्यमंत्री ने आगे कहा, 'अगर हमने 25 लाख आवास दिए, तो सिर्फ हिन्दुओं को नहीं दिए. यूपी में मुस्लिमों की आबादी 18 फ़ीसदी के करीब है, लेकिन 30-35 फ़ीसदी मकान मुस्लिमों को दिए गए.'

    'मुस्लिमों को ज्यादा मकान मिले'

    मुख्यमंत्री योगी ने कहा, 'अगर कोई आंकड़ों को देखेगा तो पता चेलगा कि हिंदुओं की आबादी की तुलना में मुस्लिमों को दोगुना मकान मिला. मुसलमान काफी गरीब हैं, उन्हें फायदे की जरूरत है और हमने यह मुहैया करवाया. हमने इसलिए उन्हें फायदा नहीं पहुंचाया कि वे मुस्लिम हैं. हमने एक क्राइटेरिया तय किया और उस कैटेगरी में जो भी आया उसे लाभ पहुंचाया गया. हमारे लिए यह बात मायने रखती है कि वे इस प्रदेश के नागरिक हैं.'

    'मेरा सभी से एक जैसा संबंध'

    इस सवाल के जवाब पर कि मुख्यमंत्री को अल्पसंख्यकों के खिलाफ समझा जाता है, योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि उनका संबंध वैसा ही मुसलमानों के साथ है जैसा की अन्य लोगों के साथ. उन्‍होंने कहा, 'मैं समाज को जाति और संप्रदाय के नाम पर बांटकर नहीं देखता.' इंटरव्यू के दौरान मुख्यमंत्री ने लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान मुस्लिम लीग को ग्रीन वायरस व अली और बजरंग बली वाले बयान पर भी खुलकर बात की. उन्होंने कहा, 'हो सकता है उस वक्त की परिस्थितियों को ध्यान में रखकर ये बयान दिए गए हों. लेकिन हां यह सच है कि हमने सांप्रदायिकता या उपद्रवियों को कभी बर्दाश्त नहीं किया और न भविष्य में करेंगे.'


    ये भी पढ़ें:

    कुशीनगर: दिग्विजय सिंह पर केस दर्ज, भगवा वस्त्र पहनकर मंदिरों में रेप का दिया था बयान

    चिन्मयानंद यौन शोषण मामला: पीड़िता बोली- इंसाफ नहीं मिला तो कर लूंगी आत्मदाह

     

    आपके शहर से (गोरखपुर)

    गोरखपुर
    गोरखपुर

    Tags: Gorakhpur news, Up news in hindi, Yogi adityanath, Yogi Adityanath Interview

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर