CM योगी ने लिया अपील का संज्ञान, 4 साल की मासूम के लिवर ट्रांसप्लांट के लिए दिये 10 लाख

सोशल मीडिया में चल रही कैंपेन का संज्ञान लेकर सीएम योगी ने 4 साल की मासूम के इलाज के लिए 10 लाख रुपए की आर्थिक मदद दी है.

सोशल मीडिया में चल रही कैंपेन का संज्ञान लेकर सीएम योगी ने 4 साल की मासूम के इलाज के लिए 10 लाख रुपए की आर्थिक मदद दी है.

Gorakhpur News: गोरखपुर की एक 4 साल की बेटी के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक बड़ा सहारा देते हुए 10 लाख रुपये की सहायता दी है. CM योगी ने सोशल मीडिया पर वायरल हो रही अपील का संज्ञान लेते हुए 4 साल की बिटिया शिवा पाण्डेय के लिवर ट्रांसप्लांट के लिए आर्थिक मदद की.

  • Last Updated: May 21, 2021, 6:10 AM IST
  • Share this:

गोरखपुर. उत्तर प्रदेश के गोरखपुर की एक 4 साल की बेटी के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक बड़े सहारे के रूप में सामने आये. जब इस बिटिया के इलाज के लिए रुपये की सख्त जरूरत थी. तब उन्होंने 10 लाख रुपये प्रदान किये. दरअसल CM योगी ने सोशल मीडिया पर वायरल हो रही अपील का संज्ञान लेते हुए 4 साल की बिटिया शिवा पाण्डेय के लिवर ट्रांसप्लांट के लिए 10 लाख रुपये उपचार के लिए दिये. मासूम शिवा दिल्ली के इंस्टीट्यूट ऑफ लिवर एंड बिलयरी साइंस में भर्ती है. दिल्ली में बेटी का इलाज करा रहे शिवा के पिता सत्येंद्र पाण्डेय सीएम योगी आदित्यनाथ से मिली मदद के लिए सीएम योगी की शुक्रिया अदा कर रहे हैं. न्यूज 18 से बात करते हुए सत्येन्द्र पाण्डेय ने कहा कि पैसों को लेकर जो तनाव था अब वो खत्म हो गया है. इसके लिए सीएम योगी का धन्यवाद.

गोरखपुर के पादरी बाजार क्षेत्र के रहने वाले सत्येन्द्र पांडेय 7 हजार रुपये महीने की नौकरी करते हैं. बेटी शिवा का इलाज 6 महीने से करा रहे थे. कोरोना संक्रमण के दौर में उन्होने अप्रैल के पहले हफ्ते में अपने माता पिता दोनों को खो दिया. उधर बेटी की तबीयत बिगड़ने लगी तो डॉक्टरों ने जवाब दे दिया. दिल्ली के अस्पताल में 12 मई से बेटी की जान बचाने के लिए जूझ रहे हैं. बेटी शिवा के लिवर ट्रांसप्लांट के लिए 20 लाख रुपये की जरूरत है. सत्येन्द्र पाण्डेय ने अपने परिचित साहित्यकार दयानंद पाण्डेय को कॉल किया.

जिसके बाद दयानंद पाण्डेय ने अपने फेसबुक पर सत्येंद्र का नाम, अकाउंट नंबर: 33568629675, आईएफ एस कोड : SBIN0006504 और मोबाइल नंबर 7880884697 शेयर करते हुए लोगों से अपील की. दयानंद पाण्डेय की इस अपील पर शिवा के पिता के एकाउंट में साढ़े आठ लाख रुपये पहुंच चुके थे. दयानंद पाण्डेय की पोस्ट वरिष्ट पत्रकार गिरीश पान्डेय तक पहुंची और उन्होंने उसे मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी को भेज दिया. जिसके बाद उन्होने इसके बारे में सीएम योगी को बताया और सीएम ने तुरंत मासूम शिवा के इलाज के लिए अस्पताल से इस्टीमेट मांगने के लिए कहा. अस्पताल ने 20 लाख रुपये का इस्टीमेट दिया. जिसमें से 10 लाख रुपये मुख्यमंत्री योगी ने स्वीकृत करते हुए धनराशि सीधे अस्पताल प्रबंधन को भेजने की बात कही है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज