अपना शहर चुनें

States

सीएम योगी का बड़ा ऐलान, मकर संक्रांति तक आ सकती है Corona की वैक्सीन

मकर संक्रांति तक आ सकती है Corona की वैक्सीन
मकर संक्रांति तक आ सकती है Corona की वैक्सीन

मुख्यमंत्री (CM) ने आगे कहा कि कोरोना वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) के लिए जनपद स्तर पर की जा रही व्यवस्थाओं की गहन मॉनिटरिंग की जाए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 2, 2021, 5:04 PM IST
  • Share this:
गोरखपुर. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) अपने दो दिवसीय दौरे पर शनिवार को गोरखपुर (Gorakhpur) पहुंचे हैं. यहां आते ही उन्होंने अधिवक्ताओं को नए साल का तोहफा दिया. उन्होंने कलेक्ट्रेट में आयोजित कार्यक्रम के दौरान 9.08 करोड़ की लागत से कलेक्ट्रेट मुख्यालय एवं तहसील सदर में बनने वाले मल्टी स्टोरी अधिवक्ता चेंबर की आधारशिला रखी. इस दौरान कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि पिछले10 महीने से कोरोना से हर व्यक्ति त्रस्त है. अमेरिका और ब्रिटेन की स्थिति आज काफी खराब है. लेकिन आज मोदीजी के मार्गदर्शन में कोरोना के खिलाफ मार्च 20 में प्रारम्भ किया था. उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में ड्राई रन हो रहा है और मकर संक्रांति के दिन देश और प्रदेश की जनता के लिये वैक्सीन ले कर आ सकते हैं.

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि कोरोना वैक्सीनेशन के लिए जनपद स्तर पर की जा रही व्यवस्थाओं की गहन मॉनिटरिंग की जाए. यह सुनिश्चित किया जाए कि वैक्सीन की प्रभावी कोल्ड चेन व्यवस्था के लिए सभी इन्तजाम समय से पूरे हों. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वकील लोग अपनी डिजिटल लाइब्रेरी के लिए तैयारी करें प्रदेश सरकार इसमें आपका सहयोग करेगी.





UP: बदायूं में छेड़छाड़ के आरोपी की पहले जमकर पिटाई, फिर मुंह काला कर गधे पर बैठाया
पीड़ित हर तरफ से हारकर विश्वास करके आपके पास आता है. लेकिन कभी कभी ऐसा होता है कि वकील साहब टूटे खपड़े के भवन और जर्जर बिल्डिंग में जब बैठकर अपने मुवक्किल से मिलता है तो मुवक्किल को भी शक होता है कि ये पीड़ित वकील क्या उसे इंसाफ दिला पायेगा. सीएम ने बोलते हुए कहा कि वकीलों का फर्स्ट इम्प्रेशन वहीं खराब होता है जब वो टूटे चैंबर में बैठता है इसलिए हम प्रदेश के अधिवक्ताओं के लिए बढ़िया चैंबर देने जा रहे हैं.

सीएम योगी ने कहा कि हम जिलाधिकारी कार्यालय और जिले के सभी अधिकारियों के कार्यालय एक साथ होने चाहिए. क्योंकि जिलाधिकारी तो कमरे में बैठते हैं पर दूसरे अधिकारी घूमते हैं. यहां हर प्रकार की सुविधाएं हम देंगे और यहां पर गांव से आने वाले व्यक्ति को भी सस्ता भोजन मिल सकेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज