गोरखपुर: पूर्वांचल को होली से पहले CM योगी देंगे बड़ा तोहफा, जानें क्या है मामला...

सीएम योगी 27 मार्च को गोरखपुर में प्राणि उद्यान का लोकार्पण करेंगे.

सीएम योगी 27 मार्च को गोरखपुर में प्राणि उद्यान का लोकार्पण करेंगे.

सीएम योगी 27 मार्च को गोरखपुर में प्राणि उद्यान का लोकार्पण करेंगे. पिछले 38 दिनों में यहां पर रिकार्ड 151 वन्यजीवों को अलग-अलग जगहों से लाया गया है. अभी भी वन्यजीवों को लाने का सिलसिला जारी है.

  • Share this:
गोरखपुर. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ( Yogi Adityanath) होली से पहले पूर्वांचल के साथ - साथ पड़ोसी राज्य बिहार और नेपाल के लोगों को शहीद अशफाकउल्लाह खां प्राणि उद्यान ( Shaheed Ashfaq Ullah Khan Zoological Garden) का तोहफा देने जा रहे हैं. सीएम योगी 27 मार्च को गोरखपुर (Gorakhpur) में प्राणि उद्यान का लोकार्पण करेंगे. पिछले 38 दिनों में यहां पर रिकार्ड 151 वन्यजीवों को अलग-अलग जगहों से लाया गया है. अभी भी वन्यजीवों को लाने का सिलसिला जारी है. यहां पर प्रस्तावित टॉय ट्रेन बच्चों और बुजुर्गों के आकर्षण का केन्द्र होगी.

प्राणी उद्यान के निदेशक डॉ. एच. राजा मोहन का कहना है कि उद्यान 260 करोड़ की लागत से 121 एकड़ में निर्मित है. जल्द ही यहां ट्वाय ट्रेन की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाएगी. यहां देश का सरकारी क्षेत्र का पहला थ्री डी थियेटर भी निर्मित है. 34.01 एकड़ वेटलैंड, 29.75 वन भूमि, 57.58 एकड़ एक्जिबिट एरिया और हास्पिटल 57.58 एकड़ में है. इस प्राणी उद्यान में 4 क्वारंटाइन सेंटर, 4 रेस्क्यू सेंटर, इंसीनेटर हाउस, पोस्टमार्टम हाउस और किचन के साथ फीड स्टोर भी निर्मित हैं.

डॉक्टर एच. राजामोहन ने बताया कि प्राणी उद्यान ने यह भी एक रिकॉर्ड बनाया है कि सिर्फ 38 दिन में 32 प्रजातियों के वन्यजीव जिनमें बब्बर शेर,  बाघ,  तेंदुआ, दरियाई घोड़ा, स्लॉथ बियर समेत 151 प्रजातियों के वन्यजीव लाए गए हैं. यहां निर्मित 33  बाड़ों में जेब्रा, हिमालयन ब्लैक बियर, गैंडा, फिशिंग कैट, लैपर्ड कैट, भेडिय़ा और खरहा समेत 7 बाड़ो में भी वन्यजीव को लाए जाने की कोशिशें जारी हैं. पक्षियों के 10 बाड़ों में सिर्फ 4 में ही पक्षी आ पाए हैं. वॉक एन एवियरी, एक्वेरियम और सर्पेटेरियम भी गुलजार हो गया है. बटरफ्लाई पार्क में काम चल रहा है.

एसीएफ संजय कुमार मल्ल का कहना है कि जब से चिडिय़ाघर का निर्माण हो रहा है तब से वो इस प्रोजेक्ट से जुड़े हैं. इसलिए उनका एक बड़ा सपना पूरा होने जा रहा है. प्राणि उद्यान के डॉक्टर योगेश कुमार का कहना है कि सभी जानवर यहां पर स्वास्थ्य हैं. सिर्फ भालू को छोडक़र सभी जानवरों का क्वारंटाइन पीरियड भी पूरा हो गया है. जिलाधिकारी के. विजयेन्द्र पाण्डियन ने का कहना है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हाथों लोकार्पण के बाद इसे जनता के लिए खोल दिया जाएगा. यह पूर्वांचलवासियों के लिए एक बड़ी सौगात है.
नगर विधायक डॉ राधामोहन दास अग्रवाल ने कहा कि पिछली सरकारों ने बरसों पहले इसका शिलान्यास तो कर दिया, लेकिन, इसके कार्य को आगे बढ़ाने लिए धन की व्यवस्था मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने की है.

गोरखपुर में दशकों से प्राणी उद्यान को लेकर लोगों में आस रही हैं. लोगों का यह सपना मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अब पूरा कर दिया है. 121 एकड़ में फैले प्राणी का लोकार्पण कर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर को देश के पर्यटन के नक्शे पर प्रतिष्ठित करेंगे. अब प्राणी उद्यान के लोकार्पण से नेपाल, बिहार और पूर्वांचल की नई पीढ़ी को इन वन्यजीव एवं पर्यावरण संरक्षण का बड़ा संदेश मिलेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज