गोरखपुर में सीनियर डॉक्टर सहित 11 मिले कोरोना पॉजिटिव, 146 पहुंचा आंकड़ा
Gorakhpur News in Hindi

गोरखपुर में सीनियर डॉक्टर सहित 11 मिले कोरोना पॉजिटिव, 146 पहुंचा आंकड़ा
सांकेतिक फोटो)

इससे पहले स्वास्थ्य मंत्री जयप्रताप सिंह ने कहा कि इस समय में जो प्रवासी श्रमिक (Migrant workers) आ रहे हैं, खासकर महाराष्ट्र, गुजरात और दिल्ली में अधिक संक्रमण है, जिसके कारण केस बढ़े हैं.

  • Share this:
गोरखपुर. उत्तर प्रदेश में कोविड-19 (COVID-19) से संक्रमित मरीजों के आंकड़ों में बढ़ोतरी हो रही है. इसी बीच सीएम सिटी गोरखपुर (Gorakhpur) में अब डॉक्टर भी कोरोना की चपेट में आने लगे हैं. इसकी वजह से चिंताए बढ़ गई है. सोमवार शाम को बीआरडी मेडिकल कॉलेज के एक और सीनियर डॉक्टर सहित 11 अन्य लोग कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) मिले हैं. इसके बाद से जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 146 हो गई है. इसमें से 51 स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं. 8 की मौत हो चुकी है. जबकि 87 मरीजों का इलाज चल रहा है.

जानकारी के मुताबिक गोरखपुर बीआरडी मेडिकल कॉलेज के एनेस्थीसिया विभाग के 49 वर्षीय सीनियर डॉक्टर की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. इससे पूर्व मेडिकल कॉलेज के दो और डॉक्टर पॉजिटिव मिल चुके हैं. बांसगांव सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का एक 30 वर्षीय स्वास्थ्य कर्मचारी भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है. पहले दिन 42 लोगों के नमूने लिए गए थे. इसके अलावा गायनी, सर्जरी और एनेस्थीसिया विभाग के डॉक्टरों सहित कर्मचारियों के सैंपल लिए जा रहे है. पॉजिटिव आने पर उनके मोहल्लों और गांवों को सील कराने के निर्देश देते हुए सैनिटाइज कराने को कहा गया है. उनके संपर्क में आने वालों की तलाश की जा रही है. सभी के सैंपल जांच के लिए भेजे जाएंगे.

प्रवासी श्रमिकों के कारण बढ़े केस



इससे पहले स्वास्थ्य मंत्री जयप्रताप सिंह ने कहा कि इस समय में जो प्रवासी श्रमिक आ रहे हैं, खासकर महाराष्ट्र, गुजरात और दिल्ली में अधिक संक्रमण है, जिसके कारण केस बढ़े हैं. लॉकडाउन के बाद अभी तक करीब 28 लाख लोग यूपी आए हैं. प्रदेश में 78 हजार बेड तैयार हैं, अगले कुछ दिनों में 1 लाख बेड तैयार हो जाएंगे. आगे अगर जो भी स्थिति बनेगी, प्रदेश सरकार उससे निपटने के लिए तैयार है. यूपी में अभी दो हजार टेस्ट प्रतिदिन हो रहा है. पूलटेस्टिंग दस से ग्यारह हजार के करीब प्रतिदिन हो रहा है. मार्च में सिर्फ एक लैब थी, आज 27 लैब में जांच चल रही है. जून के पहले सप्ताह में कोबास मशीन आ रही है, जिससे जांच में और तेजी आएगी.
ये भी पढे़ं:

प्रयागराज: शिक्षिका अनामिका शुक्ला पर सबसे बड़ा खुलासा, सामने आई मार्कशीट
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading