लाइव टीवी

गोरखपुर: मुठभेड़ के बाद कुख्यात बदमाश राजन तिवारी गिरफ्तार

News18 Uttar Pradesh
Updated: October 23, 2018, 9:04 PM IST
गोरखपुर: मुठभेड़ के बाद कुख्यात बदमाश राजन तिवारी गिरफ्तार
प्रतीकात्मक तस्वीर

पुलिस को सूचना मिली कि कुख्यात बदमाश राजन तिवारी और उसका गुर्गा किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक आ रहे हैं. सूचना के आधार पर पुलिस ने इलाके की घेरबंदी कर दी और मुठभेड़ के बाद बदमाश को गिरफ्तार कर लिया.

  • Share this:
उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में मंगलवार को पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गई, जिसमें 25 हजार का इनामी बदमाश राजन तिवारी गोली लगने से घायल हो गया. वहीं बदमाशों की फायरिंग से एक पुलिसकर्मी भी घायल हो गया. जिन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. हालांकि उसका एक साथी मौके से फरार हो गया. शातिर बदमाश के पास से तीन तमंचा और तीन कारतूस बरामद हुए हैं.

बता दें कि राजन तिवारी जिले के टॉप टेन मोस्ट वांटेड बदमाशों में से एक है. शातिर राजन बढ़हलगंज के चर्चित पिता-पुत्र पर जानलेवा हमले के मामले में वांछित चल रहा था. दरअसल क्राइम ब्रांच और कैंपियरगंज पुलिस को सूचना मिली कि राजन और उसका गुर्गा किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक आ रहा है. जिस पर राजापुर जंगल के पास पुलिस वाहन चेकिंग कर रही थी. इस बीच पनियरा से कैपियरगंज की तरफ कुख्यात बदमाश राजन तिवारी अपने गुर्गे के साथ आ रहा था.

गोरखपुर: मुठभेड़ में गिरफ्तार हुआ इनामी, 3 पुलिस कर्मी घायल

जब पुलिस ने उन्हें रोकने के कोशिश की तो बदमाशों ने गोली चला दी. जिसमें सर्विलांस सेल में तैनात सिपाही मनोज चौरसिया घायल हुआ है. जवाब में पुलिस ने भी दोनों बदमाशों पर फायरिंग कर दी, जिसमें राजन तिवारी के पैर में गोली लगी. जबकि उसका साथी बाइक समेत मौके से फरार हो गया. पुलिस ने घायल बदमाश को दबोच लिया और उसे मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया.

एसएसपी शलभ माथुर ने बताया है कि पिछले छह महीने से पुलिस राजन तिवारी की गिरफ्तारी की कोशिश कर रही थी. लेकिन आज चैकिंग के दौरान मुठभेड़ के बाद शातिर बदमाश पुलिस के हत्थे चढ़ गया. एसएसपी ने बताया है कि राजन की गिरफ्तारी को लेकर पच्चीस हजार का ईनाम भी घोषित किया गया था.

ये भी पढ़ें: 

5 साल से फरार 25 हजार का इनामी बदमाश गिरफ्तार
Loading...

VIDEO: गोंडा में डेढ़ लाख के इनामी बदमाश को लखनऊ पुलिस ने किया गिरफ्तार

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गोरखपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 23, 2018, 8:55 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...