Home /News /uttar-pradesh /

रंगदारी की काॅल से खौफ में सर्राफा व्यापारी, तफ्तीश में जुटी पुलिस

रंगदारी की काॅल से खौफ में सर्राफा व्यापारी, तफ्तीश में जुटी पुलिस

गोरखपुर के कुख्यात चंदन सिंह ने गोरखपुर के दो सर्राफा व्यापारियों से रंगदारी मांगी है. एक से पांच लाख तो दूसरे व्यापारी से 12 लाख की मांग चंदन ने फोन से की है.

गोरखपुर के कुख्यात चंदन सिंह ने गोरखपुर के दो सर्राफा व्यापारियों से रंगदारी मांगी है. एक से पांच लाख तो दूसरे व्यापारी से 12 लाख की मांग चंदन ने फोन से की है.

गोरखपुर के कुख्यात चंदन सिंह ने गोरखपुर के दो सर्राफा व्यापारियों से रंगदारी मांगी है. एक से पांच लाख तो दूसरे व्यापारी से 12 लाख की मांग चंदन ने फोन से की है.

    गोरखपुर के कुख्यात चंदन सिंह ने गोरखपुर के दो सर्राफा व्यापारियों से रंगदारी मांगी है. एक से पांच लाख तो दूसरे व्यापारी से 12 लाख की मांग चंदन ने फोन से की है. हालांकि, वह इस समय लखनऊ जेल में बंद हैं. पुलिस अब यह पता लगाने में जुटी है कि रंगदारी करने वाला वाकई चंदन या चंदन से जुड़ा हुआ कोई अपराधी है या किसी ने फोन पर शरारत की है.

    राजघाट के बसंतपुर मंडी में रहने वाले कृपाशंकर वर्मा के पास फरवरी के पहले सप्ताह में एक फोन आया. फोन करने वाले ने खुद को चंदन बताया और पांच लाख रुपये की फिरौती मांगी. काॅल करने वाले ने यह बताया कि जगह और समय वह बाद में बताएगा. जब व्यापारी ने धन देने में असमर्थता जताई तो दूसरी तरफ से कई बार धमकी भरे काॅल आए.

    उनके पास एक एसएमएस भी आया कि अगर पैसा नहीं दिया तो भाई जैसा ही हश्र होगा. बता दें कि कृपाशंकर वर्मा के भाई हरिओम वर्मा की बीते 7 जनवरी 2008 में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.

    इस काॅल के कुछ दिनों बाद बसंतपुर के सर्राफा व्यवसायी महेश के फोन पर चंदन नाम से ही फोन आया और 12 लाख रुपये की फिरौती मांगी गई. फोन काॅल से घबराए व्यापारियों ने अन्य व्यापारियों के साथ एसएसपी से मिलकर घटनाक्रमा से अवगत कराया. इनके अनुसार दोनों फोन काॅल्स के नंबर एक ही हैं.पुलिस दोनो व्यापारियों के पास आई काॅल की जांच में जुटी है.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर