Home /News /uttar-pradesh /

gorakhnath temple attack accused father said my son mental level is not well upns

गोरखनाथ मंदिर हमला: आरोपी के पिता मुनीर मुर्तुजा का दावा- मेरे बेटे की मानसिक स्थिति ठीक नहीं

मुर्तजा का परिवार पहले मुंबई में ही रहता था और अक्तूबर 2020 में वहां से गोरखपुर आकर सिविल लाइंस में बस गया.

मुर्तजा का परिवार पहले मुंबई में ही रहता था और अक्तूबर 2020 में वहां से गोरखपुर आकर सिविल लाइंस में बस गया.

Gorakhnath Temple Attack: बता दें कि गोरखनाथ मंदिर के मुख्य द्वार पर रविवार देर शाम पीएसी की 20वीं बटालियन के दो जवान गोपाल गौंड़ और अनिल पासवान तैनात थे. इसी दौरान अहमद मुर्तुजा अब्बासी हाथ में बैग लिए गोरखनाथ मंदिर के मुख्य गेट पर पहुंचा और उसने पीएसी जवानों के साथ धक्कामुक्की शुरू कर दी. फिर अचानक उसने बैग से कपड़े में लपेटकर रखी दाव (धारदार हथियार) निकाली और ताबड़तोड़ हमला करने लगा.

अधिक पढ़ें ...

गोरखपुर. उत्तर प्रदेश के गोरखपुर स्थित प्रसिद्ध गोरखनाथ मंदिर (Gorakhnath Temple) में घुसने की नाकाम कोशिश के दौरान पीएसी के दो जवानों पर धारदार हथियार से हमला करने वाले शख्स से यूपी एटीएस की पूछताछ जारी है. उधर, घटना के बाद आरोपी के पिता मुनीर मुर्तुजा ने न्यूज18 से बातचीत में दावा करते हुए बताया कि मेरे बेटे अहमद मुर्तजा अब्बासी की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है. 2017 से उसका चल रहा है. उन्होंने कहा कि बेटे के अवसाद में रहने के बाद उसने मंदिर के सुरक्षाकर्मियों पर हमले की बात कही. पूरे मामले की एटीएस जांच कर रही है.

मुर्तजा से बयान लेने के बाद पुलिस अधिकारी उसके घर गए और उसके पिता मुनीर अहमद को भी हिरासत में लेकर पूछताछ कर रहे हैं. पुलिस की पूछताछ में पता चला कि उसके पिता मुनीर अहमद भी इंजीनियर हैं. मुर्तजा का परिवार पहले मुंबई में ही रहता था और अक्तूबर 2020 में वहां से गोरखपुर आकर सिविल लाइंस में बस गया.

मुर्तजा के परिवार वालों कहना है कि उसकी दिमागी हालत ठीक नहीं चल रही है. वह शनिवार देर शाम से ही घर से लापता था और वे लोग उसकी तलाश कर रहे थे.

UP: श्रावस्ती में CM योगी ने बच्चों की थाली में परोसा खाना, बोले- शिक्षा ही जीवन में लाती है परिवर्तन

बता दें कि गोरखनाथ मंदिर के मुख्य द्वार पर रविवार देर शाम पीएसी की 20वीं बटालियन के दो जवान गोपाल गौंड़ और अनिल पासवान तैनात थे. इसी दौरान अहमद मुर्तुजा अब्बासी हाथ में बैग लिए गोरखनाथ मंदिर के मुख्य गेट पर पहुंचा और उसने पीएसी जवानों के साथ धक्कामुक्की शुरू कर दी. फिर अचानक उसने बैग से कपड़े में लपेटकर रखी दाव (धारदार हथियार) निकाली और ताबड़तोड़ हमला करने लगा. इस दौरान उसने धार्मिक नारे भी लगाए. उसने दाव से हमला कर दोनों पीएसी जवानों को घायल कर दिया. गौरतलब है कि 4 फरवरी को एक के बाद एक तीन ट्वीट कर कई प्रमुख रेलवे स्टेशन, गोरखनाथ मंदिर और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बम से उड़ाने की धमकी मिली थी.

Tags: CM Yogi, Gorakhnath Temple, Gorakhpur news, Gorakhpur Police, UP news, UP police, Yogi government

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर