गोरखपुर में ऐप से मिलेगा वाहनों का फिटनेस सर्टिफिकेट, ऑनलाइन सिस्टम से लोगों को हुई आसानी

सांकेतिक फोटो.

सांकेतिक फोटो.

Gorakhpur News: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में भारी और चार पहिया कॉमर्शियल वाहन अब एम-वाहन ऐप के माध्‍यम से फिटनेस सर्टिफिकेट मिल सकेगा. हाई सिक्‍योरिटी रजिस्‍ट्रेशन प्‍लेट भी लगवाना होगा.

  • Share this:

गोरखपुर. उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में भारी और चार पहिया कॉमर्शियल वाहनों के लिए अब एम वाहन ऐप के माध्‍यम से फिटनेस सर्टिफिकेट मिल सकेगा. आरटीओ (RTO) कार्यालय द्वारा निर्धारित‍ स्थान पर वाहन को लाने के बाद उसके छह फोटोग्राफ खींचने के बाद और ऑनलाइन अपलोड करने के बाद सिक्‍योरिटी सर्टिफिकेट मिल जाएगा. इससे वाहनों की फिटनेस में होने वाली ग‍ड़बडियों को रोके जाने का दावा किया जा रहा है. इसके साथ ही अब हाई सिक्‍योरिटी रजिस्‍ट्रेशन प्‍लेट भी वाहन संख्‍या के अंतिम नंबरों के क्रम के अनुसार जीरो से लेकर 9 तक करवाने होंगे. इससे वाहन चोरी की घटनाओं पर अंकुश लगेगा.

गोरखपुर की संभागीय परिवहन अधिकारी (आरटीओ) अनीता सिंह ने बताया कि परिवहन आयुक्‍त द्वारा जो फिटनेट होती थी, उसे अब ऐप के माध्‍यम से करने की योजना आ गई है. ये एम वाहन एप है. इसमें वाहन की फिटनेस से संबंधित सारी प्रणाली होगी. इसमें वाहन स्‍वामी को ऑनलाइन फिटनेस का फार्म जमा करना है. ऑनलाइन ही फीस जमा होगी. वे निर्धारित तारीख ले लेंगे. इसमें वाहन स्‍वामी को ऑनलाइन फिटनेस का फार्म लेकर आना है. निर्धारित तिथि पर वे वाहन को लेकर आ सकते हैं. परिवहन विभाग की ओर से राष्‍ट्रीय सड़क सुरक्षा माह मनाया जा रहा है. हमारी ओर से जागरुकता अभियान चल रहा है.

चलेगा चेकिंग अभियान


अनीता सिंह का कहना है कि हम 15 दिन बाद चेकिंग अभियान पर भी जुटने वाले हैं. इसमें डग्‍गामार वाहन, दो पहिया, चार पहिया उन वाहनों पर नज़र होगी जो सड़क सुरक्षा के नियमों का पालन नहीं करते हैं. 11 फरवरी से चेकिंग अभियान शुरू होगा. शराब पीकर वाहन चलाने वाले लोगों की भी चेकिंग करेंगे. उन्‍होंने कहा कि डग्‍गामार वाहनों को शहर में खड़ा नहीं करने के लिए एसपी ट्रैफिक से बात की है. इसके लिए भी अभियान चलाया जाएगा. आरटीओ अनीता सिंह ने बताया कि केन्द्र सरकार ने हाई सेक्‍यो‍रिटी रजिस्‍ट्रेशन प्‍लेट को लेकर नोटिफिकेशन जारी किया है. लोगों के मन में इसे लेकर संशय रहा है.

जारी किया गया शेड्यूल


अनीत सिंह ने बताया कि 15 जुलाई 2022 तक सभी वाहनों पर नई प्लेट लगाना अनिवार्य है. 15 अप्रैल तक एनसीआर क्षेत्र के भीतर नंबर लगेंगें. 15 अप्रैल तक प्रदेश के सभी व्यवसायिक वाहनों पर भी हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगना अनिवार्य है. वाहन नंबर के अंत में 0 और 1 वाली गाड़ियों पर 15 जुलाई तक प्लेट लगाना अनिवार्य है. 2 और 3 नंबर वाली गाड़ियों पर 15 अक्टूबर तक और. 4 और 5 नंबर वाली गाड़ियों में 1 जनवरी 2022 तक हाई सिक्योरिटी प्लेट अनिवार्य है. 6 और 7 नंबर प्लेट वाली गाड़ियों पर 15 अप्रैल 2022 तक प्लेट ज़रूरी है. 8 और 9 नंबर प्लेट वाले वाहनों पर 15 जुलाई 2022 तक नंबर प्लेट अनिवार्य है. एक आवेदक वाहन स्‍वामी श्रवण कुमार ने बताया कि वे यहां पर वे आनलाइन आवेदन करने के बाद निश्चित तिथि पर आए हैं. उन्‍होंने बताया कि उनके वाहन का फिटनेस होने में महज 10 मिनट लगे है. नए ऐप के माध्‍यम से फिटनेस करवाने में काफी सुविधा हो गई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज