गोरखपुर: महिला कोच में घुसकर कर छेड़खानी करते 11 शोहदे गिरफ्तार

पुलिस को इन लोगों के खिलाफ काफी दिनों से शिकायत मिल रही थी. इसी शिकायत के आधार पर पुलिस ने अभियान चलाकर इन शोहदों को धर दबोचा.

Anil Singh | ETV UP/Uttarakhand
Updated: March 10, 2018, 10:08 AM IST
गोरखपुर: महिला कोच में घुसकर कर छेड़खानी करते 11 शोहदे गिरफ्तार
गिरफ्तार आरोपियों की फोटो.
Anil Singh | ETV UP/Uttarakhand
Updated: March 10, 2018, 10:08 AM IST
गोरखपुर जीआरपी ने महिला कोच में जबरन घुसकर महिलाओं से छेड़खानी करने वाले 11 शोहदों को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक ये मनचलें ट्रेनों में सफर करने वाली महिलाओं और लड़कियों के साथ रोजाना छेड़छाड़ करते थे. पुलिस को इन लोगों के खिलाफ काफी दिनों से शिकायत मिल रही थी. इसी शिकायत के आधार पर पुलिस ने अभियान चलाकर इन शोहदों को धर दबोचा. फिलहाल जीआरपी इन बदमाशों से पूछताछ कर रही है.

महिलाओं के साथ होने वाली छेड़छाड़ या उत्पीड़न के मामले जब भी कानूनी तौर पर दर्ज होते हैं. तो पुलिस अक्सर ऐसे मामलों में आरोपी के खिलाफ धारा 354 के तहत मुकदमा दर्ज करती है.

क्या है आईपीसी की धारा 354

भारतीय दंड संहिता की धारा 354 का इस्तेमाल ऐसे मामलों में किया जाता है. जहां स्त्री की मर्यादा और मान सम्मान को क्षति पहुंचाने के लिए उस पर हमला किया गया हो या उसके साथ गलत मंशा के साथ जोर जबरदस्ती की गई हो.

क्या होती है सजा
भारतीय दंड संहिता के मुताबिक यदि कोई व्यक्ति किसी महिला की मर्यादा को भंग करने के लिए उस पर हमला या जोर जबरदस्ती करता है, तो उस पर आईपीसी की धारा 354 लगाई जाती है. जिसके तहत आरोपी पर दोष सिद्ध हो जाने पर दो साल तक की कैद या जुर्माना या फिर दोनों की सजा हो सकती है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर