अपना शहर चुनें

States

यूपी पंचायत चुनाव के सहारे मिशन 2022 फतह की तैयारियों में जुटी बीजेपी, आज से मंडल स्तर पर बैठकों का दौर

पंचायत चुनाव से मिशन 2022 फ़तेह की तैयारी में जुटी है.
पंचायत चुनाव से मिशन 2022 फ़तेह की तैयारी में जुटी है.

UP Panchayat Elections: गोरखपुर क्षेत्र के अध्यक्ष डॉ. धमेंद्र सिंह का कहना है कि गोरखपुर क्षेत्र के 12 जिलों में कुल 262 मंडल हैं. इन सभी मंडलों में पंचायत चुनाव को लेकर बैठक की कार्ययोजना बनाई गई है.

  • Share this:
गोरखपुर. ग्रामीण क्षेत्रों में अपने जनाधार को और मजबूत करने के साथ ही विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election) से पहले संगठन की मजबूती को जानने के लिए बीजेपी (BJP) ने पूरी ताकत लगा दी है. त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव (UP Panchayat Elections 2021) को लेकर बीजेपी अब मंडल स्तर पर बैठक के माध्यम से मंथन करने की तैयारी में जुट गयी है. इसके लिए बैठकें 28 जनवरी से शुरू होंगी और 3 फ़रवरी तक चलेंगी. इन बैठकों को प्रदेश के पदाधिकारी, क्षेत्र के पदाधिकारी और जिलाध्यक्ष संबोधित करेंगे.

गोरखपुर क्षेत्र के अध्यक्ष डॉ धमेंद्र सिंह का कहना है कि गोरखपुर क्षेत्र के 12 जिलों (संगठन के हिसाब से) में कुल 262 मंडल हैं. इन सभी मंडलों में पंचायत चुनाव को लेकर बैठक की कार्ययोजना बनाई गई है. इन बैठकों में मंडल के प्रभारी, मंडल अध्यक्ष, सेक्टर प्रभारी, सेक्टर संयोजक, मंडल स्तर के पदाधिकारी, उस मंडल में निवास करने वाले जिला पंचायत वार्ड के संयोजक, प्रभारी और पंचायत चुनाव के ब्लाक संयोजक शामिल होंगे. क्षेत्रीय अध्यक्ष के अनुसार, मंडल वार बैठकें 28 जनवरी से 3 फ़रवरी के बीच होनी है. यहां पंचायत चुनाव को लेकर अब तक की तैयारी की समीक्षा होगी और जिला पंचायत के हर वार्ड को जीतने की रणनीति बनाई जाएगी.

पंचायत चुनाव से मिशन 2022 जीतने की तैयारी 
क्षेत्रीय मीडिया प्रभारी डॉ. बच्चा पांडेय का कहना है कि पंचायत चुनाव की तैयारी के लिए अब तक जिले स्तर की बैठक हर जिले में सम्पन्न हो चुकी है. इन बैठकों को प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह,  प्रदेश प्रभारी राधामोहन सिंह, सह प्रभारी सुनील ओझा, प्रदेश के सह संगठन महामंत्री भवानी सिंह संबोधित कर चुके हैं. अब अगले चरण में मंडल इकाई स्तर की बैठक होनी है. यह जिले के बाद की संगठनात्मक इकाई है. इस तरह से बीजेपी पंचायत चुनाव के माध्यम से मिशन 2022 की तैयारियों में जुटी हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज